औरंगाबाद। मदनपुर के शिवगंज निवासी ईंट भट्ठा मालिक मो. मुर्तुजा की हत्या की साजिश एरकीकला पंचायत के उपमुखिया कमात गांव निवासी अरूण सिंह, मदनपुर के माया बिगहा गांव निवासी वीरेंद्र यादव एवं वार्ड सदस्य आजाद बिगहा निवासी भीम चौधरी ने रची थी। वीरेंद्र कपड़ा दुकान चलाता है। पुलिस ने भीम को गिरफ्तार किया है जबकि अरूण एवं वीरेंद्र फरार हैं। एसपी दीपक वर्णवाल के अनुसार ईंट भट्ठा मालिक की हत्या करने उसके भट्ठा पर दो बाइक से पीएलएफआइ कमांडर गया जिला के इमामगंज थाना के देवजरा गांव निवासी विकास यादव, अजीत यादव, चंदन कुमार, रोहतास के बधैला थाना के कारन गांव निवासी जीतेंद्र यादव, अंकोरहा के राहुल यादव एवं दुर्गा यादव पहुंचे थे। अजीत, चंदन एवं दुर्गा को गिरफ्तार कर लिया है। विकास, जीतेंद्र एवं राहुल फरार हैं। एसपी ने बताया कि वीरेंद्र एवं अरूण के कहने पर विकास एवं उसके गिरोह के सदस्यों ने ईंट भटठा मालिक की हत्या की है। मो. मुर्तुजा की हत्या करने के दौरान गिरफ्तार अजीत यादव के पैर में गोली लगी थी। यह अपना इलाज नोखा में कराया है। गोली लगने के बाद ईट भट्ठा मालिक की पिस्टल नहीं लूट सकें। हत्या की योजना अंकोरहा में राजकुमार यादव के घर बनी थी। राजू गुप्ता हत्याकांड में दुर्गा गया था जेल

'सेक्स करते करते जान ले लेगा मेरा पति', महिला

अबूजा,जनवरी12:एकमहिलाअपनेपतिकेसंभोगकरनेकीलतसेइतकदरपरेशानहोगईहै,किउसेअबमौतकाडरसतारहाहैऔरपतिकीअत्यधिकसेक्सकरनेकीलतसेडरीमहि