10 साल में जर्जर तार ने ली दो दर्जन जानें

बांका।लापरवाहीकीहदहोगई।झूलतेवटूटकरगिरेहाईवोल्टेजतारकेकारणपिछलेदसवर्षोंमेंएकदर्जनलोगोंकीजानेंजाचुकीहै।वहींकईलोगआजभीविकलांगताकाजीवनजीनेकोमजबूरहैं।

इसकेबावजूदनतोविभागकीतंद्राटूटरहीहैऔरनहीजिलाप्रशासनइसकासंज्ञानलेनेकोतैयारहै।हरघटनाकेबादबबालमचताहैऔरसड़कजामकेबादप्रशासनकठोरकदमउठानेकीबातकहतीहैलेकिन,समयकेसाथसबकुछभुलादियाजाताहै।किसीअन्यपरिवारकोइसकादंशझेलनापड़ताहै।

करंटसेमौतकीलंबीफेहरिस्त:

बिजलीतारकीचपेटमेंआनेसेबुधवारकोधनकुंडगांवमेंइंटरकेछात्रकौशलकुमारकीमौतघटनास्थलपरहोगई।इसकेपहलेजिनलोगोंकीमौतहुईहै।उनमेंबटसारपंचायतकेखगड़ागांवनिवासीभोलामंडलकेपुत्रसूधोमंडलकीमौतपशुचारालेकरखेतसेआनेकेदौरानरास्तेमेलटकरहे11हजारपावरकेतारसेस्पर्शहोनेसेहोगईं।जबकिइसीगांवमेंमाखनमंडलकीपुत्रीकोकरंटकेकारणएकहाथकटवानापड़ा।बातइसीजगहसमाप्तनहींहुई।करहरियापंचायतकेरबीडीहगांवकेमहादलितजम्मोदास,पिपरागांवकेतारनीचौधरी,काठवनगांवबीरबलपुरपंचायतकेभगौंधागांवनिवासीछंगुरीमंसूरीकेपोतामांगनमंसूरी,जयपुरपंचायतकेतेतरियागांवनिवासीमो.इकरामआदिकीजानेबिजलीकेलटकतेतारकेकारणहोचुकीहै।वहींधोरैयाअंचलमेंकार्यरतचतुर्थवर्गीयकर्मचारीघसियापंचायतकेभगवानपुरगांववासीसुरेशमेहतरका12वर्षीयपुत्रविभाषकुमारविद्यालयजानेकेदौरानसड़ककिनारेलटकरहेहाईवोल्टेजतारकेस्पर्शसेएकहाथसेविकलांगहोकरजीनेकोमजबूरहै।बबूरागांवसेनहरतकलटकरहेहाईवोल्टेजतारमौतकोआमंत्रणदेरहाहै।जिसकीसूचनापंचायतकेमुखियानुसरतजरी,समाजसेवीमजहरइमाम,उमाशंकरठाकुरआदिस्थानीयपदाधिकारीकेसाथबिजलीविभागकोजानकारीदी।-------------------

तारबदलनेकाकामकाफीसुस्त:

वर्ष2010मेंधोरैयासेसन्हौलाकेबीच11हजारपावरकेतारबदलनेकाकामशुरूहुआथा।यहअधूरारहगया।आजभीबिजलीखंभेकेभवमेंमोटरचालकबांसकेखंभेपरतारखिचकरखेतोंमेंसिचाईकररहेहैं।यदिइसदौरानखंभागिरताहैतोउसकीचपेटमेंआनेसेलोगोंकीजानजासकतीहै।लेकिन,विद्युतविभागकेअधिकारीकाइसतरफध्याननहींदेकरउदासीनबनेहुएहैं।

Previous post मकान से चार हजार की नकदी सहित
Next post आपसी कहासुनी में दो पक्षों में