10वीं बार गर्भवती महिला को अस्पताल में बर्थ कंट्रोल की सलाह दी गई तो वह भाग खड़ी हुई

त्रिची(जेएनएन)।तमिलनाडुमेंएकअजीबमामलासामनेआयाहै।दरअसल,नौबच्‍चोंकी52वर्षीयमांआरईकोजबदसवींबारगर्भवतीहोनेकापताचलातोवहइलाजकेलिएहेल्‍थसेंटरपहुंची।वहांहीमोग्‍लोबिनकमहोनेकेकारणउसकाइलाजकियाजारहाथा।उसकेशरीरमेंखूनकीकमीकोदेखतेहुएडॉक्टरोंनेसलाहदीकिआपतुरंतअस्पतालमेंभर्तीहोजाएंऔरडिलिवरीकेबादबर्थकंट्रोलकराएं।इसपरमहिलाऔरउसकेपरिवारजनअस्पतालसेगायबहोगए।

आरईअपनेपांचबच्चोंऔरपतिकेसाथकरीबपांचसालसेयहांसाठवर्गफीटकेघरमेंरहरहीहैं।यहपरिवारएकजगहअधिकसमयतकनहींटिकता।कुछदिनोंमेंहीअपनेरहनेकीजगहबदलतारहताहै।आरईकेचारबच्चोंकीशादीहोचुकीहैऔरवेअपनेपरिवारकेसाथरहतेहैं।

आरईकाकहनाहैकिउसेपतानहींचलाकिवहफिरसेकबगर्भवतीहोगई।उसेलगाथाकिमेनोपॉजहोनेकेबादवहगर्भधारणनहींकरेगी।स्‍थानीयनिवासियोंकेअनुसार,आरईनेअपनेसभीनौबच्‍चोंकोघरपरहीजन्‍मदियाथाऔरइसबारभीवहअस्‍पतालनहींजानाचाहतीथी।

Previous post दिनदहाड़े 11वीं की छात्रा को अ
Next post बिना सहमति तलाक देकर नाबालिग स