बेबस बेवा के बेटे को मिला इलाज

संवादसूत्र,हाथरस:सादाबादकेगांवनगलामदारीकीनिराश्रितमहिलाकेपुत्रकोइलाजनसीबहोगयाहै।दैनिकजागरणमेंखबरप्रकाशितहोनेकेबादकईलोगइलाजकेलिएआगेआएहैं।मासूमकोआगराकेएकनिजीअस्पतालमेंभर्तीकरायागयाहै।

बिसावरपंचायतकेगांवनगलामदारीनिवासीरानीदेवीकेपतिउधमसिंहकीबीमारीकेचलते4वर्षपूर्वमौतहोचुकीहै।पांचदिनपहलेउसकेछोटेबेटेचारवर्षीयजितेंद्रघरकेआगेखेलरहाथा।तभीतेजगतिसेआरहेबाइकसवारनेउसेटक्करमारदीथी,जिससेजितेंद्रकेहाथऔरपैरमेंकाफीचोटआईथी।ग्रामीणउसेनिजीचिकित्सालयलेगएजहांइलाजकराया।लेकिनसेप्टिकहोजानेसेपैसेनहोनेकेकारणमांइलाजनहीकरापारही।बच्चेकोलेकरजबआगराएकचिकित्सककेयहांगईतोचिकित्सकनेऑपरेशनकाखर्चाकरीब40हजाररुपयेबताया,जिसेसुनकरमहिलादंगरहगई।रुपयोंकेअभावमेंबगैरउपचारकराएलौटआई।

पीड़िताकेदर्दकोदैनिकजागरणनेसोमवारकेअंकमेंप्रमुखतासेप्रकाशितकिया।खबरपढ़करबिसावरकेसमाजसेवीतथाभाजपानेताजगवेंद्रचौधरीनेसुबहहीजितेंद्रकोअपनीगाड़ीसेरामबागआगराकेएकचिकित्सालयमेंभर्तीकराया,जहांउसकाउपचारचलरहाहै।साथहीजितेंद्रकेभाईकोआर्थिकमदददी।इसकेअलावाबिसावरकेप्रधानविजयपालसिंहअपनीपत्नीहेमलताकेसाथपीड़ितारानीकेघरपहुंचे।जहांआर्थिकरूपसेमददकेसाथकंबलवअन्यसामानभीदिया।समाजसेवीजगदेवआर्य,गिरीशअग्रवालनेभीमहिलाकीआर्थिकमददकी,जिससेअबलगनेलगाहैकिउसकेपुत्रकाऑपरेशनहोसकेगा।

Previous post दो पक्षों में खूनी संघर्ष, महि
Next post महिला प्रतिनिधियों को दी गई का