बिहार का एक गांव, जहां हैं तीन-तीन मुखिया, जानिए मामला

समस्तीपुर[जेएनएन]।समस्तीपुरजिलेकेमोहिउद्दीननगरप्रखंडका'बदिया’गांवअनोखाहै।यहांकेतीन-तीनमुखियाहैं।दरअसल,यहगांवतीनग्रामपंचायतोंतेतारपुर,सुल्तानपुरवकुरसाहाकाहिस्साहै।इसकेबावजूदयहगांव विकासकीबाटजोहरहाहै।

एकअददसड़कतकनहीं।शिक्षा,स्वास्थ्य,बिजलीऔरअन्यसुविधाएंतोबहुतदूरकीबातहैं।इसकायहहालतीनोंमुखियाकीउदासीनताकेकारणहै।इनलोगोंनेजिम्मेदारीएक-दूसरेपरथोपतेहुएविकासकोत्रिशंकुबनारखाहै।

प्रशासननेपंचायतोंकेपरिसीमनकेदौरानबदियागांवकीढाईहजारआबादीकोतीनग्रामपंचायतोंमेंबांटदियाथा।इसकाखामियाजागांववालेवर्षोंसेभुगतरहेहैं।यहतीनग्रामपंचायतोंतेतारपुर,सुल्तानपुरवकुरसाहाकाहिस्साहै।जबभीविकासकीबातहोतीहैतोतीनोंमुखियाएक-दूसरेपरटालदेतेहैं।

पड़ेबीमारतोखाटसेलेजातेअस्पताल

बदियाकीदलितबस्तीकोतोदशकोंबादभीएकसड़कनहींमिलसकीहै।यहांआने-जानेकेनामपरखेतोंकीमेड़हीहै।गंगाववायानदीकेबीचमेंबसेयहांकेलोगोंकीङ्क्षजदगीकीअजीबदास्तांहै।आजभीयहांकिसीकीतबीयतखराबहोतीहैतोखाटकेसहारेइलाजकेलिएलेजायाजाताहै।नईनवेलीदुल्हनभीसड़ककेअभावमेंपैदलहीआती-जातीहै।

इसगांवकीभौगोलिकस्थितिहीऐसीहैकिप्रखंडकेतेतारपुर,कुरसाहावसुलतानपुरपंचायतमेंविखंडितहोनेकेकारणयहांकेलोगअपनेलिएतीनमुखियाचुनतेहैं।इसपंचायतकेदो-दोलालविधानसभापहुंचचुकेहैं।वेसूबेमेंशिक्षावकारासुधारकेलिएजानेजातेरहेहैं।इसकेबादभीलोगएकसड़ककोमुहताजहैं।

बाकरपुरसेबदियाऔरमरगंगपारतकमुख्यमंत्रीग्रामीणसड़कयोजनासेकार्यशुरूहै।बिजलीकेलिएसर्वेकरायागयाहै।दो-तीनमाहकेअंदरउसगांवमेंभीबिजलीजलेगी।2011और2016मेंहरैलगांवकेउमापतिङ्क्षसहनेगांवकीभौगोलिकस्थितिमेंसुधारकोलेकरउच्चन्यायालयमेंमामलादायरकियाथा।इसपरडीएमकेआदेशपरपंचायतसमितिसेइसेपारितभीकियागया।लेकिनअबतकइसगांवकेलिएएकपंचायतकानिर्माणनहींहोसका।

-राणागंगेश्वरसिंह

विधानपार्षद,समस्तीपुर

यहभीपढ़ें: इसपेड़काइलाजकरतेहैंवैज्ञानिक,गिरेपत्तोंकीभीहोतीहैपूजा

गांवकेविकासकेलिएहमतत्परहैं।समस्यापहलेसेहै।हमअपनीओरसेएकडीपीआरइसगांवकेविकासकेलिएजिलाप्रशासनकोदेंगे।

विधायक,मोहिउद्दीनगर

यहभीपढ़ें: बिहारमेंगहरानेलगाबाढ़कासंकट,आधादर्जनकीडूबकरमौत

Previous post जॉर्ज फर्नांडिस जयंती: यदि आइड
Next post भूमि विवाद में चंदौली गांव में