बसैठ के दो वार्डों में दो माह से जलजमाव, महामारी की आशंका से सहमे लोग

मधुबनी।बेनीपट्टीप्रखंडकेबसैठगांवमेंबारिशकेपानीसेवार्ड11व12मेंभारीतबाहीमचीहुईहै।दोमहीनेसेबारिशकेपानीकाजलजमावहोनेकेकारणमहामारीफैलनेकीआशंकाउत्पन्नहोगईहै।लोगभयसेसहमेहुएहैं।गांवकेकरीब50घरोंमेंबारिशकापानीजमाहै।जलजमावहोनेकेकारणदोवार्डोंमेंगंभीरसंकटउत्पन्नहोगईहै।गांवकेमुख्यसड़कवटोलाकेसड़कोंपरजलजमावहै।जलनिकासीकीव्यवस्थाअबतकनहींहोनेसेलोगोंमेंआक्रोशव्याप्तहै।बसैठगांवकेपौराणिकवऐतिहासिकखेदरूभुईयांस्थानवमंदिरपरिसरमेंचारोंओरसेबारिशकापानीप्रवेशकरचुकाहै।सड़कवघरोंमेंजलजमावहोनेसेलोगोंकोकाफीपरेशानीझेलनीपड़रहीहै।विगतजुलाईमाहमेंडीएमकेनिर्देशकेआलोकमेंबसैठपंचायतकेबसैठगांवकेवार्ड12,13व14सेजलनिकासीकेलिएसड़ककाटकरपुलियाकानिर्माणकरानालाकेमाध्यमसेजलनिकासीकरायागयाथा।जलनिकासीशुरूहोतेहीराजनेतावअन्यजनप्रतिनिधियोंकेद्वाराजलनिकासीकाश्रेयलेनेकेलिएहोड़मचगईथी।बसैठगांवकेदोवार्डोंमेंअबभीविगतदोमाहसेबारिशकेपानीजमाहै,लेकिनजलनिकासीकीदिशामेंअबतककोईसार्थककदमनहींउठाएगएहैंऔरनाहीकोईजनप्रतिनिधिइससमस्याकोलेकरमुखरहुएहैं।पीड़ितलोगजनप्रतिनिधियोंवप्रशासनकेखिलाफअपनेआक्रोशकोप्रदर्शितकररहेहैं।बीडीओडॉ.रविरंजननेबतायाकिजलनिकासीकेलिएस्थलपरपहुंचकरलोगोंसेबातचीतकरस्थायीनिदानकेलिएप्रयासकियाजारहाहै।

Previous post सौ उभरती खेल प्रतिभाओं को गोद
Next post दिल्ली उच्च न्यायालय ने महिला