बस्ती में उफनाई सरयू नदी,बढ़ गया बाढ़ का खतरा

बस्ती:सरयूनदीकाकहरप्राय:अगस्तऔरसितंबरमेंदेखनेकोमिलताथा,वहींइसवर्षजूनमेंहीनदीअपनेपूरेउफानपरहै।नदीचेतावनीबिदुकोपारकरप्रवाहितहोरहीहै,जिससेदुबौलियाक्षेत्रमेंकटरियाचांदपुरतटबंधपरअनुसूचितबस्तीऔरगौरासैफाबादतटबंधपरटकटकवागांवकेलोगोंकीनींदउड़चुकीहै।

2020मेंटकटकवागांवकोबचानेकेलिए24घंटेनदीमेंपरकोपाइन,बोल्डर,बालूकीभरीबोरियांडालीगईथीं,तबजाकरगांवबचपायाथा।बादमेंमौजूदासरकारनेटकटकवागांवबचानेकेलिए9करोड़कीलागतसेदोठोकरबनानेकेप्रस्तावकीस्वीकृतिदी,लेकिनविभागीयलापरवाहीकेचलतेयहकार्य15जूनतकपूरानहींहोपाया।परियोजनाओंकोपूराकरनेकेलिएअबतेजीदिखाईजारहीहै।शुक्रवारकोठोकरबनानेकेलिएपोकलैंड,जेसीबीआदिमशीनोंकोलगाकरकामकरायाजारहाथा।

टकटकवागांवनिवासीरामजगत,शान्तीदेवी,बिक्रम,आशुतोष,जुल्ला,रामसागर,भगवानदीन,गोमती,सुरेश,पुजारी,प्रहलादकाकहनाहैकियदियहीतेजीएकमहीनेपहलेदिखाईगईहोतीतोबाढ़कोलेकरखतरानहींसताता।टकटकवागांवमें20परिवारनिवासकरतेहैं,जिनमेंनौपरिवारोंकेपासतटबंधकेदूसरीतरफजमीनहीनहींहै।लोगअभीसेहीवहखाद्यान्न,जरूरीसामानअपनेरिश्तेदारोंकेघरभेजनेलगेहैं।गांवकीशांतिदेवीनेबतायाकिपिछलेवर्षजबकटानहोरहाथातभीघरखालीकरनेलगेथे,लेकिनपिछलेवर्षघरतोबचगयाथा,लेकिनइसबारघरबचनेकीगुंजाइशकमहीहै।गौरासैफाबादतटबंधकेअवरअभियंताविजयकुमारनेबतायाकिसानोंद्वाराजमीननहींमिलपानेकेकारणकामदेरीसेशुरूहुआहै।आधुनिकमशीनोंसेकार्यकोपूराकरनेकीकोशिशकीजारहीहै।

Previous post पाकुड़ में इलाज के नाम पर चार
Next post बरखा दत्त ने अपशब्द बोलने के म