बुखार से मासूम की मौत, 17 रोगी मिले मलेरिया के

औरंगाबाद/सिधौली(सीतापुर):सिधौलीइलाकेमेंबुखारसेएकतीनसालकेमासूमकीमौतहोगईऔरपरिवारकेकईलोगबीमारहैं।गोंदलामऊमेंमलेरियाकेदोनएरोगीपाएगएहैं।सीएमओनेसंक्रमितगांवपहुंचकरलोगोंकोजागरूककरसाफ-सफाईपरध्यानदेनेकोकहाहै।सिधौलीकेगांवअलादादपुरनिवासीअर्शलान(3)पुत्रकलीमकईदिनोंसेबुखारसेपीड़ितथा।गुरुवारकोहालतबिगड़नेपरउसेइलाजकेलिएकस्बेकेएकप्राइवेटअस्पतालमेंभर्तीकरायागया,जहांपरबच्चेकीमौतहोगई,जबकिपरिवारकीइंसा(2)पुत्रीरहीम,नगमा(7)पुत्रीसलीम,गुल्फसा(22)पत्नीरहीमबुखारसेपीड़ितहैं।सभीकोलखनऊट्रॉमासेंटररेफरकरदियागयाहै।गांवमें30सेअधिकलोगबुखारकीचपेटमेंहै।सीएचसीअधीक्षकनेबतायाकि,सूचनामिलनेपरगांवपहुंचजांचकी।बच्चेकीउल्टी-दस्तसेमौतहुईहै।लोगोंकोदवाएंदेकरजागरूककियागयाहै।वहीं,शुक्रवारकोसीएमओडॉ.आरकेनैयरगोंदलामऊकेसंक्रमितगांवसैदापुर,पैरुवा,जमुनापुरपहुंचेऔरलोगोंकोजागरूककिया।बबुरीखेरमेंटीमनेकैंपलगाकरसातमरीजोंकासैंपललिया,जिसमेंदोलोगोंमेंमलेरियापायागया।कुनेरामें15रोगीमलेरियाकेमिले।100लोगबीमारहैं।सीएमओनेबतायाकि,गांवकाजायजालेकरलोगोंसेसाफ-सफाईरखनेपरजोरदियागयाहै।हालातमेंसुधारहोरहाहै।मरीजोंकीसंख्याभीलगातारकमहोरहीहै।

Previous post ग्रामीणों को स्वच्छता का पाठ प
Next post Women Empowerment: यह हैं प्रय