दावे की पोल खोल रहे बिजली से वंचित टोले

मधुबनी।केंद्रसरकारकेसौफीसदीगांववटोलोंकोबिजलीपहुंचानेकेदावोंकीपोलखोलरहीहैमधवापुरप्रखंडकेबिजलीसेवंचितएकदर्जनसेअधिकटोलावगांव।आजादीकेदशकोंबादभीइनगांवोंमेंअभीतकबिजलीनहींपहुंचसकीहै।गांवकेलोगलालटेनवढ़ीबड़ीयुगमेंजीनेकोविवशहै।इनगांवोंमेंपांचवर्षपूर्वपोलतोगड़ेपरंतुअबतकगांवमेंबिजलीनहींपहुचीहै।कईगांवमेंअभीभीपोलनहींगाड़ेजासकेहैं।सरकारीदावेकागजीखानापूर्तिसावितहोरहीहै।इसमामलेमेंसरकारीदावोंकीहकीकतजाननेकेलिएशनिवारकोजागरणसंवाददातानेइलाकेकेकईगांवकादौराकरसरकारीदावोंकीपड़तालकियातोलोगोंनेखुलकरअपनेविचारव्यक्तकिए।बिजलीसेवंचितगांव

विजलीविभागकेअधिकारियोंवकर्मियोंकीलापरवाहीकेकारणमधवापुरप्रखंडकेकुल13पंचायतोंकेकरीबएकदर्जनसेअधिकटोलाऔरगांवआजभीबिजलीसेवंचितहै।वासुकीबिहारीउतरीपंचायतकेगुलरियाटोल,इनरवाटोल,बलावापंचायतकेवैरवाउसराहीटोल,साहरदक्षिणीपंचायतकेमहादलितटोललालुनगरसेथानाचौक,पिहवारापंचायतकेसवरौलीधोबीटोल,तरैयापंचायतकेपतारटोल,उतरागांवकेवार्डसंख्या4,6एवं7,विशनपुरपंचायतकेअनुसूचितजातिटोल,सलेमपुरपंचायतकेपोखरौनीवबोकहापश्चिमटोल,पिरौखरपंचायतकेमहादलितमुसहरीटोलसहितएकदर्जनसेअधिककईगांववटोलेमेंपोलतोपिछलेपांचवर्षपूर्वगाड़ेगएपरंतुअजतकइनगांवोंमेंगाड़ेगएपोलपरबिजलीतारनहींलगाएगए,नहीइनगांवोंवटोलोंकोबिजलीसेरौशनहुआ।पोखरौनीऔरबोकहागांवमेंपोलकेअभावमेंकईटोलेमेंबिजलीनहींपहुंची।कहतेहैंबिजलीसेवंचितगांवकेलोगबिजलीसेवंचितबिहारीकेमहादलितगुलरियाटोलकेरामजीसदा,रघुबीरसदा,मनचितसदानेबतायाकिटोलकेलोगआजभीबिजलीकेलिएतरसरहेहैं।पोलतोगाड़ेगएपरंतुबिजलीनहींपहुंचाईगई।इसीतरहबिहारीइनरवाटोलकेवृद्धरामवुक्षमहतो,गोनाईसदानेबतायाकिटोलेकेकईनवयुवकदूसरेटोलसेतार¨खचकरअपनेघरमेंबिजलीजलारहेहैं।बैरवाउसराहीटोलवासीमनोहरयादव,रामनाथसाह,कारीमहतोनेबतायाकिउनकेटोलकेलोगबिजलीकेलिएलालायितहैं।विभागकेद्वारापोलतोगाड़ेगएपरबिजलीअबतकनहींउपलब्धहै।सवरौलीधोबीटोलवासीमनोजबैठा,हरीचंदबैठा,श्यामकुमारबैठाआदिनेबतायाकिटोलाकेकुछभागमेंबिजलीजलरहाहै।परंतुउनकेटोलमेंबिजलीनहींहै।सरकारीदावेकागजीखानापूर्तिहै।लोगविजलीकेलिएतरसरहेहै।वहींमधवापुर,वासुकी,बिहारी,जानकीनगरसहितकईगांवकेलोगोंनेबतायाकिइनगांवोंमेंपिछले40वर्षपूर्वबिजलीकेपोलतारलगाएगएजोअबजर्जरहोचुकाहै।आएदिनतारटूटकरगिरनेसेअबतकदोदर्जनसेअधिकलोगबिजलीतारकेचपेटमेंआकरअपनीजानगवांचुकेहैं।परंतुविभागजर्जरतारपोलकेबदलनेकेलिएगंभीरनहींहै।हल्कीहवाकेझोकेसेतारटूटजातीहै।औरकईदिनोंतकबिजलीआपूर्तिबंदहोजातीहै।इतनाहीनहींअनियमितबिजलीआपूर्तिसेलोगकाफीपरेशानरहतेहैं।अनियमितविद्युतआपूर्तिमधवापुरप्रखंडक्षेत्रकेबिजलीउपभोक्ताविभागीयअधिकारियोंवकर्मियोंकीलापरवाहीकेकारणइसभीषणगर्मीमेंअनियमितविजलीआपूर्तिसेपरेशानहै।मात्र8से10घंटेहीबिजलीआपूर्तिकीजारहीहै।लोगोंकोमोवाइलकीबैट्रीचार्जकरनेमेंभीकठिनाईआरहीहै।

कहतेहैंअधिकारीबिजलीविभागकेकनीयविद्युतअभियंताराजेशकुमारनेबतायाकिजर्जरविद्युततारबदलनेकीप्रक्रियाशुरूहोचुकीहै।इसकेलिएविभागजक्शनकंपनीकाठीकाहुआहै।एकसेदोमाहमेंतारबदलेजानेकाकामशुरूहोजाएगा।जिसपंचायतकेटोलोमेंपो¨लगकाकार्यशुरूनहींहुआवहांशीघ्रबिजलीपहुंचाईजारहीहै।ग्रामीणक्षेत्रमेंकैम्पलगाकरलोगोंकोबिजलीकनेक्शनदिएजारहेहैं।दोमाहकेअंदर836लोगोंकोबिजलीकनेक्शनदिएगएहै।विभागनियमितबिजलीआपूर्तिकेलिएकटिबद्धहै।

Previous post ट्रक की टक्कर से ऑटो सवार महिल
Next post भूमि विवाद में अधेड़ की गला दब