Delhi Violence: हेड कांस्टेबल रतनलाल को मिला शहीद का दर्जा, परिवार के एक सदस्य को मिलेगी नौकरी

जयपुर,जेएनएन।DelhiViolence:दिल्लीमेंहुईहिंसाकाशिकारहुएहेडकांस्टेबलरतनलालकाबुधवारकोउनकेपैतृकगांवसीकरकेतिहावलीमेंअंतिमसंस्कारकरदियागया।रतनलालकेसातवर्षकेबेटेनेउन्हेंमुखाग्निदी।उनकेपरिजनऔरग्रामीणरतनलालकोशहीदकादर्जादिएजानेकीमांगकोलेकरसुबहसेहीहाइवेरोककरबैठेथे।अंतिमसंस्कारमेंपहुंचेसीकरकेसांसदसुमेधानंदसरस्वतीनेकेंद्रसरकारद्वारारतनलालकोशहीदकादर्जादिएजानेकीघोषणाकी।इसकेबादरतनलालकाअंतिमसंस्कारहोपाया।

शहीदरतनलालकीपार्थिवदेहदिल्लीसेउनकेगांवआरहीथी।उनकेपरिजनऔरग्रामीणमंगलवारसेहीउन्हेंशहीदकादर्जादिएजानेकीमांगकररहेथे।सुबहजबउनकीपार्थिवदेहआनेकासमयहुआउससेपहलेहीगांववालेगांवसेतीनकिलोमीेटरदूरसेगुजररहेनेशनलहाईवेपरधरनादेकरबैठगएथे।करीबछहघंटेप्रदर्शनवजामकेबादसीकरसांसदस्वामीसुमेधानंदसरस्वतीनेगृहराज्यमंत्रीजीकिशनरेड्डीसेबातकीऔररतनलालकोशहीदकादर्जादिलानेवएककरोड़केमुआवजेकीघोषणाकेबादग्रामीणोंनेअंतिमसंस्कारहोनेदिया।

अंतिमयात्रामेंतिहावलीकेअलावाआसपासकेकईगांवोंऔरझुंझुनूंतककेसैकड़ोंलोगशामिलहुए।पूरीयात्रामेंशहीदरतनलालअमररहे,वंदेमातरमवभारतमाताकेगगनभेदीजयकारेलगातारलगतेरहे।अंत्येष्टिस्थलपरगार्डऑफऑनरकेसाथहुएअंतिमसंस्कारहुआ।अंतिमयात्रासेपहलेरतनलालकीपार्थिवदेहघरपरपहुंचीतोपत्नीपूनमवमांसंतरादेवीसहितपरिजनोंकोरो-रोकरबुराहालथा।उन्हेंदेखकरहरकिसीकीआंखवहांनमहोगई।इसदौरानझुंझुनूंसांसदनरेन्द्रखीचड़,सीकरसांसदसुमेधानंदसरस्वती,फतेहपुरविधायकहाकमअली,पूर्वविधायकनंदकिशोरमहरियासहितकईप्रशासनिकवपुलिसअधिकारीमौजूदरहे।

मिलाशहीदकादर्जा

एएनआइकेमुताबिक,भाजपाअध्यक्षजेपीनड्डानेकहाकिदिल्लीपुलिसकेहेडकांस्टेबलरतनलालकोकानूनव्यवस्थाबनाएरखतेहुएअपनीजानगंवानीपड़ी।उन्हेंशहीदकासम्मानदियागयाहैऔरउनकेपरिवारकोएककरोड़रुपयेदिएजाएंगे।हमउनकेपरिवारकेएकसदस्यकोनौकरीभीप्रदानकरेंगे।

सीएमअशोकगहलोतनेजतायादुख

दिल्लीमेंसोमवारकोउपद्रवियोंकी¨हसामेंजानगंवानेवालेहेडकांस्टेबलरतनलालकोशहीदकादर्जादेनेकीमांगउठीहै।रतनलालसीकरजिलेकेतिहावलीगांवकेरहनेवालेथे।मंगलवारकोउनकेगृहग्रामसेलेकरराजस्थानविधानसभातकमेंउन्हेंशहीदकादर्जादेनेकीमांगउठी।मुख्यमंत्रीअशोकगहलोत,उपमुख्यमंत्रीसचिनपायलट,पूर्वमुख्यमंत्रीवसुंधराराजेऔरभाजपाप्रदेशअध्यक्षसतीशपूनियानेउनकेनिधनपरदुखप्रकटकियाहै।उनकेनिधनकीखबरआनेकेबादसेगांवमेंशोककीलहरहै।

गांवकीपंचायतमेंउमड़ेग्रामीणोंनेउन्हेंशहीदकादर्जादेनेकेसाथहीआश्रितोंकोमुआवजादेनेऔरगांवकेस्कूलकेस्टेडियमकानामरतनलालकेनामपररखनेकीमांगकीहै।रतनलालकीमांसंतरादेवीऔरभाईदिनेशगांवमेंहीपरिवारकेसाथरहतेहैं।स्वजनोंनेमीडियासेचर्चामेंबतायाकिदोदिनपहलेहीरतनलालनेफोनपरमांऔरछोटेभाईसेबातचीतकीथी।तबरतनलालनेमांसेकहाथाकिइसबारछुट्टीलेकरपरिवारकेसाथहोलीपरगांवआएंगे।ग्रामीणोंनेबतायाकिकरीबढाईसालपहलेहीरतनलालकेपिताबृजमोहनकानिधनहुआथा।तीनभाइयोंमेंरतनलालसबसेबड़ेथे।उनकाएकछोटाभाईदिनेशगांवमेंहीखेतीबाड़ीकरऔरगाड़ीचलाकरआजीविकाकमाताहै।

एकअन्यछोटाभाईरमाकांतबंगलुरुमेंरहकरनिजीकामकाजकरताहै।रतनलालवर्ष1998मेंदिल्लीपुलिसमेंभर्तीहुएथे।उनकेपरिवारमें12सालकीबेटीसिद्धि,10सालकीबेटीकनकऔरसातसालकाबेटारामहै।दीगईश्रद्धांजलिराजस्थानविधानसभामेंबजटपरचर्चाकेदौरानफतेहपुरसेविधायकहाकमअलीनेबतायाकिरतनलालउनकीहीविधानसभाक्षेत्रकेनिवासीथे।ऐसेमेंराजस्थानसरकारसेउनकीमांगहैकिरतनलालकोशहीदकादर्जादियाजाए।उनकीअंत्येष्टिमेंउन्हेंशहीदजैसाहीसम्मानदियाजाए।राजस्थानविधानसभामेंहुईभाजपाविधायकदलकीबैठकमेंभीदोमिनटमौनरखकररतनलालकोश्रद्धांजलिदीगई।

राजस्थानकीअन्यखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें

Previous post भ्रूण लिंग जांच का धंधा छोड़ने
Next post जिले के विकास के लिए अधिकारी स