देश को एक सूत्र में बांधती है हिंदी

लोहरदगा:¨हदीदिवसएवंस्वच्छतापखवाड़्ेकेअवसरपरराजकीयकृतमध्यविद्यालयमेंभाषणप्रतियोगिताकाआयोजनकियागया।प्रतियोगितामेंप्रथमस्थानखुशबूकुमारी,द्वितीयविनीताकुमारी,तृतीयआर्यनराजवर्माकोप्रदानकियागया।शेषप्रतिभागियोंकोसांत्वनापुरस्कारदियागया।मौकेपरकिशोरकुमारवर्मानेकहाकिजिसप्रकारकश्मीरभारतकामुकुटहै,उसीप्रकार¨हदीदेशकी¨बदीहै।जबतक¨बदीहै,तबतकहमारीमांकीशानहै।हमलोगोंकोघरसेहीशुरूआत¨हदीमेंहीबातचीतकीकरनीचाहिए।उन्होनेकहाकि¨हदीकोअपनीपहचानबनाएं।किसीभीदेशकीएकरूपताकेसाथदेशकोएकताकेसूत्रमेंभाषाबांधतीहै।देशकीएकभाषा¨हदीहीहोसकतीहै।वर्तमानमेंलगभगपूरेविश्वमेंएककरोड़लोग¨हदीभाषाकाप्रयोगकरतेहैं।इसकेलिएसंयुक्तराष्ट्रसंघमें¨हदीकोमान्यतादेनीचाहिए।इसअवसरपरयूनिसेफकेजिलाप्रतिनिधितथालीड्सकेजिलासंयोजकरितेशकुमार¨सह,रामलगनउरांव,किरणकुमारी,पुष्पलताटोप्पो,रेखा,सुनीता,जेरोमी,पार्वती,बेबीतब्सुम,रीता,मालाकुमारी,काजलसिन्हासुरेंद्रउरांवआदिमौजूदथे।

Previous post आत्महत्या की खबर मिलते ही गांव
Next post महिला श्रमिकों को दी श्रम नियम