धर्मराज की पूजा में मिलता सामाजिक समरसता का संदेश देता

करौं(देवघर):प्रखंडमुख्यालयस्थितधर्मराजमंदिरप्रांगणमेंवार्षिकपूजनोत्सवशनिवारकोशुरूहुआ।मंदिरमेंपूजा-अर्चनाकरनेवालोंकातांतालगगया।चारोंओरउत्सवीमाहौलदेखनेकोमिलरहाहै।क्षेत्रमेंभक्तिकीअविरलधाराबहरहीहै।यहपूजादोदिनोंतकहोतीहै।मान्यताहैकिबाबासबकीमनोकामनापूरीकरतेहैं।उनकेदरबारसेकोईखालीहाथनहींलौटाहै।इसलिएप्रतिवर्षभोगताओंकीसंख्यामेंइजाफाहोरहाहै।भोगताओंनेकीदंडयात्रा

पूजाकेप्रथमदिनशनिवारकीरातकोसभीभोगतानिर्जलाउपवासमेंरहकरशामकोढोल-ढाककेबीचबाबाबाणेश्वरकोमुख्यभोगताद्वारामाथेपरलेकरसिकदारपोखरकीओरप्रस्थानकिया।इसकेबादलगभगएककिमीलंबीदंडवतयात्राकोभोगताओंनेपूरीकी।इसयात्राकोदेखनेकेलिएसड़ककेदोनोंओरश्रद्धालुओंकीभीड़उमड़पड़ी।दंडवतयात्राकोसुगमबनानेमेंयुवाओंनेकाफीसहयोगदिया।भोगताओंकीइसदंडवतयात्राकोदेखलोगोंकामनश्रद्धासेभरगया।इसकेबादसभीभोगतामंदिरमेंकतारबद्धहोकरबैठगएएवंउनकेकंधेपरखड़ेहोकरपुजारीहारूशर्माबाबाकेदरबारमेंपहुंचे।इनकेबीचफलाहारबांटागया।इसपूजाकीसबसेबड़ीविशेषताहैकिइसकोमनानेमेंजात-पात,ऊंच-नीच,अमीरी-गरीबीकोतरजीहनदेकरआपसीभाईचारेकीपरंपराकानिर्वहनकियाजाताहै।यहपूजासबकोसामाजिकसमरसताकासंदेशदेताहै।मंत्रीनेकियाफलाहारकावितरणश्रद्धावभक्तिकाप्रतीकधर्मराजपूजाकीजहांएकओरधूममचीहै,वहींभोगताओंकीसेवा-शुश्रूषाकरनेमेंलोगजीजानसेजुटेहैं।वहींसूबेकेश्रममंत्रीराजपलिवारकेअलावाअन्यश्रद्धालुओंद्वाराभोगताओंकेबीचफलाहारकावितरणकियागया।इसकेपूर्वमंत्रीनेबाबाधर्मराजकीपूजा-अर्चनाकरआशीर्वादलिया।प्रत्येकवर्षफलाहारवितरणकरनेवालोंकीतदादबढ़तेहीजारहीहै।बतायागयाकिलोगोंकीमनोकामनापूर्णहोनेपरफलाहारकावितरणकियाजाताहै।बाबाकाआशीर्वादपानेकेलोगकोकोईअवसरचूकनानहींचाहतेहैं।दंडवतयात्राकोसुगमबनानेकेलिएसड़कस्थितगड्ढोंकोबालूसेभरदियागया।जबकिमार्गकोठंढाकरनेकेलिएवभोगताकेशरीरपरपानीडालरहेहैं।कुछतोदंडवतदेनेमेंअसमर्थभोगताओंकोमंदिरपहुंचनेमेंसहयोगकररहेहैं।मौकेपरबीससूत्रीअध्यक्षललन¨सह,बीडीओअमलजी,थानाप्रभारीदुष्यंत¨सहसमेतअन्यउपस्थितथे।

Previous post पलिया खुर्द गांव में आग लगने स
Next post बवाल की आशंका में पुलिस ने रोक