एएसआइ बब्बी ने घर में मनाना था जन्मदिन, एक दिन पहले गांव में पहुंची लाश तो रो पड़ा पूरा गांव

धर्मबीरसिंहमल्हार,तरनतारन:जगराओंकीनईदानामंडीमेंशनिवारकीशामनशातस्करोंनेगोलियांमारकरदोएएसआइकीहत्याकरदीथी।इनमेंविधानसभाहलकापट्टीकेगांवसंगवांनिवासीएएसआइदलविदरजीतसिंहबब्बीभीथे।गांवसंगवांकेपूर्वसरपंचहरप्रीतसिंहबंटीकेछोटेभाईदलविदरजीतबब्बी1994मेंपंजाबपुलिसमेंभर्तीहुएथे।17मईकोउनकाजन्मदिनथा।

इसदिनकोपरिवारकेसाथसेलिब्रेटकरनेकेलिएवह16मईकोघरलौटनेवालेथे।एएसआइहरवर्षअपनाजन्मदिनघरपरहीमनातेथे।तीनदिनसेघरमेंजन्मदिनमनानेकेलिएउनकेबेटेपाहुलप्रीतसिंह,रबाबरूपसिंहवहकमरासजाचुकेथे,जहांपरकेककाटनाथा।मगरपरमात्माकोकुछऔरहीमंजूरथा।रविवारकोउनकापार्थिवशवअंतिमसंस्कारकेलिएघरलायागयातोपूरागांवरोपड़ा।हरकिसीकीआंखनमथी।

एएसआइबब्बीकेअंतिमसंस्कारकेमौकेएडीजीपीइकबालप्रीतसिंहसहोताभीपहुंचे।उन्होंनेकहाकिबब्बीपंजाबकाहीनहींबल्किदेशकेलिएशहीदहुआहै।उन्होंनेबब्बीकीमां,बड़ेभाई,पत्नीऔरबच्चोंकोदिलासादेतेहुएकहाकिपूरामहकमापरिवारकेदुखमेंशामिलहै।पंजाबपुलिसकीटुकड़ीकीओरसेएएसआइदलविदरजीतसिंहबब्बीकोसलामीदेतेहुएअंतिमविदायीदीगई।इसमौकेएसएसपीध्रुमनएचनिबाले,पूर्वएसएसपीरघबीरसिंहसंधू,एसपीगुरनामसिंह,डिप्टीकमिश्नरकुलवंतसिंहधूरी,एसडीएमराजेशशर्मा,डीएसपीकुलजिदरसिंह,लखविदरसिंह,डीएसपीजगराओंराजबीरसिंह,तहसीलदारकरनपालसिंह,जसविदरसिंह,एसजीपीसीमेंबरखुशविदरसिंहभाटियानेफूल-मालाएंभेंटकरतेदलविदरजीतसिंहबब्बीकोअंतिमविदायगीदी।शवदेखबेहोशहोरहीथीपत्नी,मांकहरहीथीवेपुत्ततैनूंइसतरांक्योंलपेटियाहोया

जैसेहीएसएसआइबब्बीकाशवगांवपहुंचातोपरिवारकारो-रोकरबुराहालथा।अमनदीपकौरपतिकाशवदेखबेसुधहोरहीथीं।वहकभीअपनेपतिकेशवकोदेखतीतोकभीदोनोंलड़कोंकोदिलासादेतेबेहोशहोरहीथी।दूसरीतरफबुजुर्गमांबेटेकाशवदेखकहरहीथी,'वेपुत्तातूंतांकैहंदासीकिबेबेमैंअैतवारनूंहीघरआजानाए।परआहकी,तैनूंइसतरांक्योंलपेटियाहोयाए।दस्सतैनूंगर्मीनईलगदी।

Previous post चंदौली में देर रात घर से निकले
Next post दीवार फांदकर घर में सोती किशोर