झोपड़ी व गंदगी के बीच रहने के लिए ग्रामीण मजबूर

टेंवा:मंझनपुरब्लॉकक्षेत्रकेनिजामपुरहड़ियागांवकेलोगोंकोविकासकासपनादिखाकरहरपांचसालमेंठगाजारहाहै।यहलोगअपनीआवाजतकखुलकरबुलंदनहींकरपारहेहैं।इसकापरिणामहैकिग्रामीणोंकोनतोपक्कीछतनसीबहोरहीहैऔरनहीउनकोनालीवखड़ंजाजैसीसुविधामिलीहै।शौचालयभीअधूरेहैं।ऐसेमेंउनकोखुलेमेंजानापड़ताहै।स्कूलकीसुविधातोहै,लेकिनसुरक्षाकेलिएदीवारकानिर्माणनहींहोसका।परेशानग्रामीणोंकोकेवलआश्वासनकीघुट्टीसालोंसेपिलाईजारहीहै।

निजामपुरहड़ियागांवबहादुरपुरकामजराहै।गांवमेंगरीबतबकेकेलोगोंकीसंख्याअधिकहोनेकेकारणइसओरकिसीनेध्याननहींदिया।आलमयहहैकिगांवकीगलियोंमेंपूरेसालपानीभरारहताहै।यहांनलीतककानिर्माणनहींहोसक।डीएमनेगांवकेपानीकोगांवकेबाहरनिकालनेकेलिएप्रतियोगितातककराई,लेकिनफिरभीपक्कीनालीकीसौगातलोगोंकोनहींमिली।गांवमेंकरीब50लोगोंकेनामपरशौचालयस्वीकृतहै,लेकिनउनकेनिर्माणअबतकनहींहुआहै।इसीप्रकारप्रधानमंत्रीआवासकीसुविधाभीकरीबएकदर्जनकोमिलनीहै।यहनहींदीगई।गांवकीमुख्यगलीसेलेकरअंदरकीबस्तीकीगलियोंयहांपरविकासकीरफ्तारकीकहानीबतारहीहै।ग्रामीणोंनेअपनेअधिकारियोंकेलिएप्रधानसेकहा,लेकिनउनकोआश्वासनमिलाकीव्यवस्थासहीहोगी।इसकेबादउनकाविरोधशांतहोगया।स्कूलकीदीवारटूटीहै।कायाकल्पयोजनासेनिर्माणहोनाहै।इसकोलेकरभीअभीतकप्रगतिनहींदिखी।

ग्रामसभाकोविकसितकरनेकेलिएजोकार्ययोजनातैयारकीगईहै।उसीकेमुताबिककार्यकरायाजारहाहै।कोविडकेचलतेबजटकमहै।स्कूलपरिसरकाबाउंड्रीवालकाकार्यजल्दशुरूकरदियाजाएगा।गांवमेंसफाईकर्मीनहींआताहै।इससंबंधमेंएडीओपंचायतसेशिकायतभीकीगईहै।

-फिराजअहमद,प्रधाननिजामपुरहड़ियाटॉपटेनसमस्याएं

-कईपात्रलाभार्थीअबभीशौचालयपानेसेवंचित

-गांवकेमुख्यसड़कपरनालीनिर्माणनहोनेसेरास्तेमेंजलभराव

-बिजलीकेतारजर्जरहोनेआयेदिनहोताहैफाल्ट

-नियमितरूपसेनहींखुलतीहैराशनकीदुकान

-हैंडपंपखराबहोनेसेगांवमेंपेयजलकीकिल्लत

-पात्रव्यक्तियोंकोनहींमिलरहापेंशनयोजनाकालाभ

-शौचालयनहोनेसेखुलेमेंशौचकरतेहैलोग

-नियमितसफाईकर्मीनआनेसेगांवमेंगंदगीकाअंबार

-तैयारकीगईकार्ययोजनाकेमुताबिकनहींहुआकार्य

-गांवकेकईरास्तेसड़कगड्ढेमेंतब्दील

Previous post जर्जर सड़कों की समस्या से जूझ र
Next post हुस्सेपुर पंचायत के भंडारी नाथ