लाश बनकर वापस लौटा गुजरात में कमाने गया बेटा

संवादसूत्र,बामड़ा:बामड़ाब्लॉककेबफेईगांवसेकमानेकेलिएगुजरातगयायुवकलाशबनकरलौटा।बतायागयाहैकिकामपरजानेकेदौरानयुवकबिजलीतारकीचपेटमेंआगयाजिससेउसकीमौतहोगई।उसेबचानेमेंउसकाएकसाथीगंभीररूपसेघायलहोगया।जिसकाइलाजगुजरातकेएकनिजीअस्पतालमेंचलरहाहै।मालिकनेयुवककीलाशगांवभिजवानेकीव्यवस्थाकरनेकेसाथदाह-संस्कारकेलिएपांचहजाररुपयेभेजेहैं।इसघटनासेगांवमेंमातमपसराहैतथालोगोंमेंरोषदेखाजारहाहै।

बामड़ाब्लॉकअंतर्ग्रतबफेईगांवकेनिवासीगुलबदनसोरेनकेतीनबेटेवदोबेटियांहैं।मंझलाबेटामुकेश(23)गांवकेसात-आठलड़कोंकेसाथकमानेकेलिएचारसालपहलेगुजरातकेसूरतमेंगयाथा।वहांपरवेलोगचिगड़ी(प्रोन)मछलीपालनकाकामकरतेथे।12घंटेतककामकरनेकेबादप्रतिमहीनेउसेआठहजाररुपयेमिलतेथे।बीतेरविवारकोवेलोगड्यूटीजानेएकलारीपरसवारहोकरनिकलेथे।इसीदौरानसड़कपरऊपरसेगुजरतेबिजलीकीतारमुकेशपरगिरगईजिससेउसकीमौकेपरहीमौतहोगई।मुकेशकोबचानेमेंउसकासाथीमनोजखड़ियाभीबुरीतरहसेझुलसगया।मंगलवारशामकोमुकेशकाशवगांवपहुंचा।इसकेबादगमगीनमाहौलमेंउसकीअंत्येष्टिकीगयी।विदितहोकिअंचलकेयुवकोंद्वाराकामकीतलाशमेंबाहरजानाऔरवहांशोषणकाशिकारहोनाआमबातहोगईहै।इसकेबादभीस्थानीयजनप्रतिनिधितथाप्रशासनइससमस्याकोलेकरउदासीनरवैयाअपनानालोगोंकोअखररहाहै।

Previous post उचौलीगोठ में हाथियों ने रौंदी
Next post गर्भवती महिला व ननद को घर में