माधोटांडा में सफाई कर्मियों की कमी से लगे गंदगी के ढेर

पीलीभीत,जेएनएन:जिलेकीबड़ीग्रामपंचायतमाधोटांडामेंसफाईव्यवस्थाकेलिएछहकर्मचारीनियुक्तहैं।संचारीरोगसेबचावकेलिएप्रशासनकीओरसेगांवोंमेंजागरूकताअभियानचलायाजारहाहै।इसीकेतहतगांवोंकीसफाईव्यवस्थापरप्रशासनअधिकजोरदेरहाहै,लेकिनपर्याप्तकर्मचारीनहोनेसेसमुचितसफाईनहींहोपारहीहै।

बरसातकेमौसममेंअक्सरगांवकीनालियांकीचड़सेभरजातीहैं,जिससेबीमारियांफैलनेकाखतराबनारहताहै।ग्रामपंचायतमें22ह•ारकीआबादीपरसिर्फछहसफाईकर्मचारीहीकार्यकरतेहैं।ऐसेमेंगांवकीसफाईव्यवस्थापरसवालखड़ाहोताहै।गांवकेपंद्रहवार्डोंमेंकर्मचारियोंकीओरसेप्रतिदिनहरवार्डमेंसफाईकरनानामुमकिनहै।पंचायतीराजविभागकीतरफसेअभीभीयहांपरऔरकर्मचारियोंकीनियुक्तिनहींकीगई।पर्यटनकी²ष्टिसेभीयहांपरलोगोंकाआनाजानालगारहताहै।गोमतीउद्गमस्थलकेअलावाआसपासकेक्षेत्रोंसेघूमनेआनेवालेलोगमाधोटांडामेंजरूरआतेहैं।इतनीबड़ीग्रामपंचायतमेंहरवार्डमेंकमसेकमदोकर्मचारियोंकाहोनाअनिवार्यहै।छहकर्मचारियोंकेसहारेपूरीग्रामपंचायतमेंसफाईकरानानामुमकिनहै।

-मेहंदीहसननकवीइसवक्तसंचारीरोगकेचलतेगांवमेंसफाईव्यवस्थाबेहतरहोनीचाहिए।नालियोंकीगंदगीकोसाफरखनाचाहिए,जिससेबीमारीसेबचायाजासके।

-दीपेंद्रसिंहनवनिर्वाचितप्रधानसेकाफीउम्मीदेंहैं।उन्हेंप्रशासनसेऔरअधिकसफाईकर्मचारियोंकीमांगकरनाचाहिए,जिससेगांवकीसफाईव्यवस्थाबेहतरहोसके।

-जयजयरामगुप्तागांवकीआबादीबहुतबड़ीहैइसकोदेखतेहुएयहांपरसफाईकर्मचारीकमहै।वहभीप्रतिदिनकार्यनहींकरतेहैंइसकासमाधानहोनाचाहिए।

-मिजाजुद्दीनगांवमेंसफाईव्यवस्थापरपूराध्यानदियाजारहाहै।हालांकिआबादीकेअनुपातमेंयहांसफाईकर्मचारियोंकीसंख्याकमहै।ऐसेमेंदिहाड़ीपरमजदूरलगाकरसफाईकरारहेहैं।

नईमअली,ग्रामप्रधान

Previous post Neeraj Chopra: नीरज का अंदाज न
Next post बागेश्वर के दुर्गम गांव में शर