Mission Shakti: अबकी 15 अगस्त को प्रयागराज के ​​​​​परिषदीय स्कूलों में महिला अभिभावक करेंगी झंडारोहण

प्रयागराज,जागरणसंवाददाता।प्रदेशमेंमिशनशक्तिकादूसराचरणशुरूहोचुकाहै।अभियानकेतहत15अगस्तकोइसबारस्कूलोंमेंवरिष्ठमहिलाअभिभावकोंसेझंडारोहणकरानेकीतैयारीहै।स्कूलशिक्षामहानिदेशककीओरसेजारीनिर्देशमेंकहागयाहैकिप्रदेशकेसभीप्राथमिक,उच्चप्राथमिकऔरकस्तूरबागांधीबालिकाविद्यालयोंमेंझंडारोहणकियाजाएगा।जिलोंकेबीएसए,डायटकेप्राचार्य,खंडशिक्षाधिकारी,अकादमिकरिसोर्सपर्सनइसबातकोसुनिश्चितकरेंकिउनकेक्षेत्रमेंआनेवालेस्कूलोंमेंवरिष्ठमहिलाअभिभावकझंडारोहणकरें।यहकदममहिलाओंऔरबालिकाओंकीसुरक्षा,सम्मानऔरस्वावलंबनकेप्रतीकस्वरूपउठायाजारहाहै।इसकेअतिरिक्तअगस्तसेदिसंबरतककईअन्यकार्यक्रमभीआयोजितहोंगे।जिनकालक्ष्यमहिलाओंमेंआत्मविश्वासजगानेकेसाथहीउन्हेंजागरूककरनाहै।

बीजेएसकीशिक्षकोंको18माहसेनहींमिलावेतन

बिशपजानसनगर्ल्सस्कूलएंडकालेजकीशिक्षकोंको18महीनेसेवेतननहींमिलरहाहै।शिक्षकोंकाप्रतिनिधिमंडलबुधवारकोराज्यमहिलाआयोगकीसदस्यअनीतासचानसेमिला।सर्किटहाउसमेंराज्यमहिलाआयोगकीसदस्यसेशिक्षकोंकेप्रतिनिधिमंडलनेबतायाकिसभीशिक्षकोंनेजूनमहीनेतकआनलाइनक्लासली।जब18महीनेकेवेतनकीमांगकीगईतोस्कूलमेंउनकाप्रवेशप्रतिबंधितकरदियागयाहै।चतुर्थश्रेणीकर्मचारियोंकोभीवेतननहींदियाजारहाहै।कुछस्टाफहटाभीदियाहै।कोरोनाकालकीआर्थिकतंगीकोवजहबतारहेहैं।राज्यमहिलाआयोगकीसदस्यनेप्रतिनिधिमंडलकोआश्वासनदियाकिवहस्कूलकीप्रिंसिपलसेइसप्रकरणमेंबातकरेंगी।इसदौरानप्रीतिलाल,इशरतआरिफ,कुसुमप्रसाद,संदीपबेलफोर,वंदनाफ्रांसिस,एकताघोष,महिमाग्लैडविन,मीतारिचर्ड,ज्योतिकापाल,मोनिकासेन,राखी,सुशीलकुमार,सनीकुमार,शिवकुमारआदिमौजूदरहे।

तीनशिक्षकोंकोअतिरिक्तप्रभार

इलाहाबादकेंद्रीयविश्वविद्यालयकेतीनशिक्षकोंकोअतिरिक्तप्रभारसौंपागयाहै।इनतीनोंविभागोंकाजिम्माअबतकप्रोफेसरसंजयदत्तारायकेपासथा।उनकीसेहतखराबहोनेकेचलतेयहप्रभारसौंपागयाहै।सेंटरफारथिएटरएंडफिल्मकाप्रभारअंग्रेजीविभागकीडाक्टरजयाकपूरकोसौंपागयाहै।सेंटरफारमीडियास्टडीजकाजिम्माडाक्टरधनंजयचोपड़ाकोसौंपागयाहै।जबकि,जर्नलिज्मएंडमासकम्युनिकेशनकाजिम्मासुनीलउमरावकोसौंपागयाहै।कुलपतिकेनिर्देशपररजिस्ट्रारप्रोफेसरएनकेशुक्लनेइसआशयकाआदेशजारीकरदियाहै।

सीएमपीकालेजमेंकियागयापौधारोपण

चौधरीमहादेवप्रसादपीजीकालेजमेंपौधारोपणकियागया।कार्यवाहकप्राचार्यडाक्टरबृजेशकुमारनेबतायाकिपर्यावरणकोसंरक्षितकरधरतीकोप्रदूषणमुक्तएवंग्लोबलवाॄमगकीसमस्यासेसंपूर्णविश्वकोबचाएरखनेकेलिएयहकार्यक्रमआयोजितकियागया।वायुसेनासेजुड़ेसैनिकोंनेइसमेंअहमभूमिकानिभाई।उन्होंनेअशोक,अर्जुन,गुलमोहर,अमलतास,महुआआदिकेपौधेरोपे।इसदौरानवनस्पतिविज्ञानविभागकेडा.संजयकुमारसिंह,डा.मीनाराय,डा.सरिताश्रीवास्तव,डा.आलोककुमारसिंह,दीपककुमारगौड़आदिमौजूदरहे।

Previous post Exclusive: अर्जुन अवार्डी संजी
Next post धूप तो शहर में थी, गांव में तो