मजदूरी मिली नहीं, लपटों से घिर गया मजदूर

संस,रानीखेत(अल्मोड़ा):बेड़गाव(ताड़ीखेतब्लाक)कावनक्षेत्रधधकउठा।विकराललपटोंनेश्रमिककोचपेटमेंलेलिया।इससेवहबुरीतरहझुलसगया।चीखपुकारपरआसपासकेलोगोंनेउसेबचाया।प्राथमिकउपचारकेबादउसेहल्द्वानीरेफरकरदियागयाहै।श्रमिकठेकेदारसेअपनीमजदूरीमांगनेआयाथा।पैसेतोनहींमिलेमगरगांवलौटतेवक्तआगसेघिरगया।

कोसीनदीपरकमानगांव(हवालबाग)कोजानेकेलिएनिर्माणाधीनपुलकेबादहाइवेतकसीसीरोडतैयारकीजारहीहै।बेड़गाववआसपासकेतमामयुवायहांमजदूरीकररहे।मगरबीतेपाचमाहसेश्रमिकोंकोदिहाड़ीनहींमिलीहै।बेड़गावनिवासीरमेशबेलवालरविवारकोमजदूरीकेरुपयेलेनेगया।मुंशीरणजीतसिंहनेउसेबादमेंभुगतानकीबातकहलौटादिया।निराशरमेशगांवलौटरहाथा।इसीबीचवनक्षेत्रसेउठीलपटोंमेंघिरगया।तेजधूपवहवाकेकारणविकरालहोतीआगसेनिकलनेकारास्तानमिलातोवहमददकेलिएचिल्लाया।लोगोंनेउसेबमुश्किलबचासीएचसीसुयालबाड़ीपहुंचाया।जहांसेउसेहल्द्वानीरेफरकरदियागया।

ठेकेदारकेखिलाफगुस्सा

वनाग्निसेझुलसेरमेशकेपितानारायणसिंहनेआरोपलगायाकिबेटाकईचक्करकाटचुका।ठेकेदारभुगताननहींकररहा।मजदूरीकरनेवालेभीमसिंह,मोहित,गिरीशबेलवाल,रामसिंह,विक्त्रमनेगी,रोहितनेगीआदिनेभीयहीदुखड़ारोया।बतायाकिठेकेदारश्रमिकोंकाढाईसेतीनलाखरुपयेदबाएबैठाहै।उन्होंनेकार्रवाईकीमांगकी।

'करीब75फीसदभुगतानहोचुकाहै।25फीसदशेषहै।ठेकेदारश्रमिकोंकोभुगतानक्योंनहींकररहापतालगाएंगे।

-जगदीशप्रसाद,कनिष्ठअभियंता,लोनिवि'

'बिलनहींबनाहै।जबबिलबनेगातबभुगतानहोगा।ईईऔरएसईसेबातकरो।मुंशीहिसाबदेगा।बिलआनेपरहीभुगतानकरूंगा।

-भीमसिंह,ठेकेदार'

Previous post तेंदुए ने मार डाले दो घोड़े
Next post तीन साल से स्टेडियम के इंतजार