मनरेगा में महिलाओं की भागीदारी से बढ़ाएंगे आय

जागरणसंवाददाता,हाथरस:महात्मागांधीराष्ट्रीयग्रामीणरोजगारयोजना(मनरेगा)मेंमहिलाओंकीभागीदारीबढ़ानेकेलिएराष्ट्रीयग्रामीणआजीविकामिशनकेस्वयंसहायतासमूहोंकोसुविधादातानामितकियाजाएगा।महिलाएंखोदाईसेलेकरपौधारोपणतककाकामसंभालेगी।

श्रमबजटकातीसफीसदमानवदिवसकार्योंकाचिह्नांकनभीसुविधादाताकरेंगेऔरमहिलाओंकोरोजगारकेलिएप्रेरितकरेंगे।यहीनहींमहिलामजदूरकार्यकीडिमांडभीसुविधादातासेकरेंगीऔरभुगतानकीजिम्मेदारीभीउनकीहीहोगी।अभीतकमहिलामनरेगामजदूरोंकोपृथकसेकार्यनहींदियाजाताथा।उन्हेंपुरुषमजदूरोंकेसाथकार्यकरनापड़ताथा।इसकीवजहसेतमाममहिलाश्रमिककार्यकरनेसेकतरातीथीं।ऐसेमेंमनरेगामेंउनकीभागीदारीकाफीकमहोतीजारहीथी।

महिलामजदूरस्वयंसहायतासमूहकोअपनेकार्यकीमांगप्रस्तुतकरसकेंगीवहींदूसरीतरफमहिलाश्रमिकोंकीनिर्भरताग्रामपंचायतकेकार्मिकोंपरकमरहेगी।इससंबंधमेंग्रामविकासअभिकरणकेपरियोजनानिदेशकअश्वनीकुमारकेअनुसारजनपदमेंएक104पंचायतोंमेंहोनेवालेपौधारोपणकेलिएगड्ढेखोदेजानेकेकाममेंमहिलाओंकोलगायागयाहै।2132महिलाएंरोजानामजदूरीपरलगीहैं।इनकोपेड़लगानेसेलेकरउनकेरखरखावकाभीजिम्मादियाजाएगा।

Previous post 20 किमी दूर मिल रही स्वास्थ्य
Next post महिलाओं की संघर्षगाथा पर चर्चा