निजी चिकित्सक के यहां पहुंची फर्जी टीम, अभद्रता

संवादसूत्र,हाथरस:हसायनकस्बाकेपुरदिलनगरचौराहेकेपासझोलाछापचिकित्सककेयहांछापेमारीकरनेगईटीमकोपकड़लियागया।टीमकेपाससेसीएमओकार्यालयकापत्रवआइकार्डनिकला,जिसेछीनलियागया।पुलिसकोभीमौकेपरबुलालियागया।

कस्बामेंपुरदिलनगरचौराहेकेपासगड़ौलारोडपरस्वास्थ्यविभागकीएकसंस्थासर्वेकरनेकेलिएनिजीचिकित्सककेयहांपहुंची।वहांमौजूदएमआरकोटीमपरसंदेहहुआ।सूचनादेकरअन्यचिकित्सकोंकोवहांबुलालियागया।चिकित्सकोंनेसंस्थाकीओरसेदिखाएगएमुख्यचिकित्साअधिकारीहाथरसकापत्रवपहचानपत्रटीमसेछीनलिया।चिकित्सकोंनेसीएमओकार्यालयमेंइसकीसूचनादेदीऔर100नंबरपरशिकायतदर्जकरादी।मौकेपरपुलिसपहुंचगई।पुलिसकेपहुंचतेहीमौकेपरलोगोंकीभीड़जुटगई।संस्थाकेकर्मचारियोंकाकहनाथाकिउन्हेंदिल्लीसेसर्वेकेलिएभेजागयाहै।उनकाकार्यग्रामीणक्षेत्रमेंस्थितक्लीनिकोंकासर्वेकरनेकाहै।निजीचिकित्सककेयहांछापेमारीकरनेकीसूचनापरडिप्टीसीएमओडॉ.मधुरकुमारभीवहांपहुंचे।जबउन्होंनेछापेमारीकीबातपूछीतोसंस्थाकेकर्मचारियोंनेबतायाकिउन्हेंसर्वेकाकार्यसौंपागयाहै।पिछलीसालहुईथीएफआइआर

हसायनक्षेत्रमेंस्वास्थ्यविभागकीफर्जीटीमबनकरझोलाछापचिकित्सकोंकेयहांछापामारनेकायहकोईपहलामामलानहींहै।इससेपूर्वपिछलेसालभीएकझोलाछापकेयहांफर्जीटीमपहुंचीथी।जोलोगस्वास्थ्यविभागकेअधिकारीबनकरगएथे।उनकेखिलाफहसायनथानेमेंसीएमओकेद्वारारिपोर्टदर्जकराकरकार्रवाईकराईगईथी।इनकीसुनो

मेरीओरसेकिसीभीसंस्थाकोआइकार्डवपत्रजारीनहींकियागया।यदिकोईछापेमारीकरनेकेलिएपहुंचाहैतोयहगलतहै।इसमामलेकीजांचपड़तालकराईजारहीहै।दोषियोंकेखिलाफरिपोर्टदर्जकराकरकार्रवाईकराईजाएगी।

डॉ.ब्रजेशराठौर,सीएमओ,हाथरस

Previous post मनीष मिस्टर गाजीपुर तो दिलीप ब
Next post कैंसर के प्रति किया जागरूक