पीली पट्टी बताएगी महिला कोच की पहचान

पीलीभीत:ट्रेनमेंमहिलायात्रियोंकीसुविधाकेलिएअनारक्षितविशेषकोचकीव्यवस्थाहोतीहै।फिरभीअक्सरकोचपोजीशनपतानचलनेऔरबोगीपरबाहरकोईबोर्डनहोनेसेमहिलाओंकोप्लेटफॉर्मपरदौड़लगानीपड़तीहै।अबऐसानहींहोगा।महिलाकोचअलगसेपहचानमेंआएगा।ऐसीबोगीमेंपीलेरंगकीपट्टीमहिलाकोचकीपहचानबताएगी।रेलवेनेपीलीभीतरूटपरयहप्रयोगशुरूकरदियाहै।

महिलाओंकेलिएरेलवेकीतरफसेसभीपैसेंजर,मेल,एक्सप्रेस,डेमूट्रेनोंमेंअलगविशेषकोचकीसुविधाहोतीहै।अबतकइनअनारक्षितश्रेणीकेकोचकीपहचानकेलिएबाहरट्रेननंबर,नामवालेबोर्डमेंहीमहीनअक्षरोंमें'महिला'शब्दलिखाहोताहै।बाहरमहिलाकीआकृतिकाप्रतीकचिह्नभीबनाहोताहै।लेकिन,कोचपुरानाहोनेकेचलतेनतोमहिलाशब्दसहीसेप्रदर्शितहोताहैऔरनहीप्रतीकात्मकआकृतिनजरआतीहै।असुविधामहिलायात्रियोंकोउठानीपड़तीहै।

बरेली,टनकपुररूटकीट्रेनोंमेंप्रयोगशुरू

पूर्वोत्तररेलवेकेइज्जतनगररेलमंडलनेपीलीभीतहोकरसंचालितहोनेवालीट्रेनोंकेमहिलाकोचमेंबदलावकरप्रयोगकियाहै।बरेलीसिटीसेपीलीभीतऔरपीलीभीतसेटनकपुररूटकीट्रेनकेमहिलाकोचकेबाहरपीलेरंगकीचौड़ीपट्टीडालीगईहैं।यहपट्टियांइसतरहसेडिजाइनमेंडालीगईहैंकिप्लेटफॉर्मपरखड़ेयात्रीकोदूरसेहीस्पष्टनजरआसकें।

प्रत्येकट्रेनकेमहिलाकोचकेबाहरपीलेरंगकीपट्टीडालीगईहैं।इससेमहिलाकोचदूरसेहीदिखाईदेताहै।

-धर्मेद्रकुमार,स्टेशनअधीक्षकपीलीभीत

Previous post वाहन की टक्कर से बाइक सवार दो
Next post महिला डॉक्टर नहीं रहनें से मरी