प्रधानाध्यापकों को बताए गए प्रेरक ब्लाक बनाने के तरीके

जागरणसंवाददाता,ओबरा(सोनभद्र):ब्लाकसंसाधनकेंद्रपरविकासखंडचोपनकेप्रधानाध्यापकोंकाउन्मुखीकरणकार्यक्रमआयोजितकियागया।चोपनब्लाककोसबसेपहलेप्रेरकब्लाकबनानेकेलिएप्रेरणासूची,प्रेरणालक्ष्य,प्रेरणातालिका,ई-पाठशाला,मोहल्लाशिक्षा,आधारशिलासंदर्शिका,सहजकहानीपुस्तक,तीनोंमोड्यूलध्यानाकर्षण,आधारशिला,शिक्षणसंग्रहकानियमितअध्ययनऔरशिक्षणमेंइसकीउपयोगितापरप्रकाशडालागया।डायटप्राचार्यमनोहरप्रसादद्वाराशिक्षकोंकेनेतृत्वक्षमतासंवर्धन,दीक्षाएप,रीडएलांगएपकीउपयोगिताआदिकेबारेमेंविस्तारसेबतायागया।खंडशिक्षाअधिकारीमुकेशकुमारद्वाराप्रेरकब्लाकबनानेकीसारीकार्ययोजनाविस्तारसेशिक्षकोंकोबताया।एसआरजीविद्यासागरद्वाराभीप्रिटरिचमटेरियल,दूरदर्शनऔररेडियोपरप्रतिदिनप्रसारितहोनेवालेकार्यक्रमोंकेबारेमेंबताया।उपस्थितएआरपीमनीषकुमार,संजयकुमारयादव,धर्मेन्द्रप्रसाद,नीलमणिमिश्रा,संकुलशिक्षिकाअंजूजायसवालद्वाराभीप्रधानाध्यापकोंकेनेतृत्ववविद्यालयविकासयोजनाविस्तारसेबतायागया।डायटप्राचार्यद्वाराउत्कृष्टशिक्षकोंकोसम्मानपत्रदियागया।रीडएलांगमेंपांचलाखएकसौसत्रहस्टारप्राप्तबालिकासुषमाकोभीसम्मानितकियागया।

Previous post बाइकर्स गैंग ने सेवानिवृत्त श
Next post स्क्रीन के माध्यम से किया जागर