पर्यावरण दिवस.. मंडलसेरा के किशन ने बसाया जंगल, जी उठे जलस्रोत

घनश्यामजोशी,बागेश्वर:घटतेजलस्तरकीसमस्याकेबीचमंडलसेरागांवकेवृक्षमित्रपुरस्कारविजेताकिशनमलड़ाकीबदौलतइलाकेकेजलस्रोतफिरसेजीउठेहैं।पर्यावरणसंरक्षणऔरसंवर्धनकीदिशामेंउनकीइसपहलसेग्रामीणअबपानीकेलिएमीलोंनहींभटकते।

52वर्षीयकिशनमलड़ानेअपनेजीवनके30साल15हेक्टेयरभूमिकोहरा-भराजंगलबनानेमेंलगादिए।इससेवन्यजीवोंकोआसरामिलनेकेसाथहीसूखतेजलस्त्रोतोंकोभीसंजीवनीमिली।शहरसेसटेगांवमंडलसेराकीआबादीअबबढ़करकरीब15हजारपहुंचगईहै।आबादीकेसाथवहांपानीकीकिल्लतबढ़गई।जलसंस्थानजबभीयहांपानीदेनेसेहाथखड़ेकरदेताहै,तोलोगगांवकेधारोंकारुखकरतेहैं।धारोंसेपानीकीधारअबदेखतेहीबनतीहै।पर्यावरणप्रेमीकिशनमलड़ाकी30सालकीमेहनतसेनौलेधारेसूखनेसेबचगए।15सालपहलेगांवकेसबसेबड़ेधारेकापानीआधाइंचसेकमरहगयाथा।गर्मीमेंतोसूखनेकेकगारमेंपहुंचजाताथा।आजधारेकेआसपास15हेक्टेयरवनपंचायतभूमिमेंछायादारपेड़ोंकाजंगललहलहारहाहै।किशनकीमेहनतसेपानीकेएकमात्रस्त्रोतनौलाधारामेंआजएकइंचपानीआरहाहै।इससेवन्यजीवोंकोलाभमिलरहाहै।मंडलसेरागांवकेमलड़ाखोलातोकमेंबनेजंगलमेंबांज,फल्यांट,पांगर,उतीस,बांस,सिलिग,रिगाल,अमरूद,आमकेपेड़लहलहारहेहैं।यहांजंगलीमुर्गी,बंदर,लंगूर,गुलदारसमेतविभिन्नप्रजातिकेपक्षीनिवासकररहीहं।

एककरोड़पौधरोपणकालक्ष्य

वृक्षप्रेमीकिशनमलड़ाकालक्ष्यएककरोड़पौधरोपणकाहै।वेअभीतकछहलाखपौधरोपितकरचुकेहैं।75हजारपौधअगलेदोसालोंमेंलगानेकालक्ष्यहै।अपनेगांवकेअलावाउन्होंनेक्वैरालीमें12,धौलाड़ीमेंपांच,मेलाडुंगरीमेंपांचहेक्टेयरभूमिमेंपौधरोपणकियाहै।

-----------पर्यावरणप्रेमीकिशनमलड़ानेशहरसेसटेइलाकेकोहरा-भराकियाहै।पानीकेस्त्रोतकोनयाजीवनदियाहै।उनकीमेहनतसेगांवकेलोगआजसंकटकेदौरमेंभीस्वच्छपानीपीरहेहैं।

-नवीनआर्य,सभासद,मंडलसेरावार्ड।

Previous post सोनीपत पुलिस पर पथराव करने के
Next post मोबाइल छीनकर भागा बाइक सवार