पुण्यतिथि पर याद किए गए डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी

मधुपुर(देवघर):जनसंघकेसंस्थापकडॉ.श्यामाप्रसादमुखर्जीकी66वींपुण्यतिथिरविवारकोभाजपाइयोंनेमनाई।भाजपाप्रखंडअध्यक्षदीनदयालशाहीकीअध्यक्षतामेंडॉ.मुखर्जीकीतस्वीरपरकार्यकर्ताओंनेश्रद्धासुमनअर्पितकी।प्रखंडअध्यक्षनेकहाकीडॉ.मुखर्जीकोएकप्रखरराष्ट्रवादीकेरूपमेंजानाजाताहै।उन्होंनेमुस्लिमतुष्टीकरणकीनीतिकाविरोधकरहिदुत्वकीरक्षाकीपहलकीथी।डॉ.मुखर्जीधर्मकेआधारपरदेशविभाजनकेकट्टरविरोधीथे।यहीकारणथाकिदेशकीआजादीकेबादपंडितजवाहरलालनेहरूकीसरकारमेंमंत्रीपदसेइस्तीफादेकरजनसंघकीस्थापनाकी।मौकेपरकांग्रेसचौधरी,संजीवकुमारराय,राजेशशाही,नंदलालरवानी,पंचमरवानी,मालिकचौधरीजयदेवचौधरी,बबलूचौधरी,छोटूचौधरी,नकुलरवानी,अजीतचौधरीवअन्यमौजूदथे।इधर,भाजपानगरमहिलामोर्चाअध्यक्षामालतीसिन्हाकेनेतृत्वमेंडॉमुखर्जीकीपुण्यतिथिपरउनकीतस्वीरपरमहिलाकार्यकर्ताओंनेमाल्यार्पणकरश्रद्धांजलिअर्पितकी।मोर्चाकीमहिलासदस्योंनेडॉक्टरमुखर्जीकेबताएंरास्तेपरचलतेहुएउनकेसपनोंकोसाकारकरनेकासंकल्पलिया।नगरअध्यक्षानेकहाकिनवभारतकेनिर्माणमेंडॉमुखर्जीकामहत्वपूर्णयोगदानरहाहै।इसकेलिएदेशसदाऋणीरहेगा।उनकेबलिदानकोजायानहींहोनेदियाजाएगा।बंगाल,पंजाब,कश्मीरकेअधिकांशहिस्सेभारतकाअभिन्नअंगबनाएरखनेमेंडॉ.मुखर्जीकायोगदानहै।सीमाप्रवेशकेबादजम्मूकश्मीरसरकारद्वाराउन्हेंगिरफ्तारकरलियागयाथा।40दिनतकजेलमेंबंदरहनेकेबाद23जून1953कोउनकीरहस्यमयढंगसेमौतहोगईथी।मौकेपरगायत्रीलाल,सपनविश्वकर्मा,सुनीताजायसवाल,किरणगुप्ता,मिलीजयसवाल,सवितादेवी,सत्यनयनीगुप्ता,आशाजायसवाल,देवंतीदेवीआदिमौजूदथीं।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप

Previous post मानसिक तौर पर परेशान व्यक्ति न
Next post महिला दिवस पर जागरूक अभिभावकों