पुरखों की सरज़मीं पर माथा टेकना चाहते हैं महानायक अमिताभ बच्चन, लड़कियों का स्कूल खोलने की भी है तैयारी

प्रतापगढ़:सदीकेमहानायकफिल्मस्टारअमिताभबच्चनजल्दहीअपनेपुरखोंकीसरजमींप्रतापगढ़केबाबूपट्टीगांवजाकरवहांकीमाटीपरमाथाटेकसकतेहैं.इसकेसंकेतखुदअमिताभनेअपनेचर्चितटीवीशोकौनबनेगाकरोड़पतिमेंदिएहैं.इसशोमेंबाबूपट्टीगांवकोयादकरतेहुएउन्होंनेबतायाकिउनकापरिवारइनदिनोंइसगांवकोलेकरचर्चाकरतारहताहै.परिवारअपनेपुरखोंकेइसगांवमेंएकस्कूलखोलनाचाहताहै.स्कूलकेसाथहीगांवमेंकुछअन्यसामाजिककामकियेजानेकाभीमनहै.

77सालकेअमिताभअपनेजीवनमेंकभीभीअपनेपैतृकगांवप्रतापगढ़केबाबूपट्टीनहींगएहैं.उम्मीदजताईजारहीहैकिकेबीसीकेज़रियेसंकेतदेनेवालेअमिताभजल्दहीअपनेपरिवारकेसाथबाबूपट्टीजासकतेहैं.अमिताभकीपत्नीजयाबच्चनज़रूरसाल2006मेंयहांआईथीं.यहांनईबहूकीतरहगांवकेचौरेपरमाथाटेकनेकेबादउन्होंनेअपनेससुरहरिवंशरायबच्चनकेनामपरलाइब्रेरीकीशुरुआतकीथी.जयानेउसवक़्तसार्वजनिकतौरपरयहांकेलोगोंसेदोवायदेकियेथे.पहलाबेटेअभिषेककीहोनेवालीपत्नीकोगांवलानेऔरसाथहीबाबूपट्टीगांवमेंलड़कियोंकेलिएएकडिग्रीकालेजखोलनेकी.कयासयहलगाएजारहेहैंकिबच्चनपरिवारयहांस्कूलकीशुरुआतकरलड़कियोंकाडिग्रीकालेजखोलनेकेअपने14सालपुरानेवायदेकोपूराकरनाचाहताहै.

गांवकेलोगबेहदउत्साहित

केबीसीमेंपुरखोंकेगांवकोयादकरने,यहांपरिवारसंगआनेकासंकेतदेनेऔरबाबूपट्टीमेंस्कूलखोलेजानेकाएलानकरनेकेबादसेगांवकेलोगबेहदउत्साहितहैं.गांवकेलोगखुशियोंमेंसराबोरहोगएहैं.कहींमिठाइयांबांटीजारहीहैंतोकहींपटाखेफोड़करआतिशबाजीकीजारहीहै.बाबूपट्टीगांवकेलोगोंकोअबउसलम्हेकाइंतज़ारहैजबबच्चनपरिवारयहांआएंऔरउन्हेंस्कूलसमेतअन्यतोहफोंकीसौगातदे.वैसेबाबूपट्टीवइसकेकईकिलोमीटरकेदायरेमेंलड़कियोंकाकोईडिग्रीकालेजनहींहै.यहांइसकीसख्तजरूरतभीहै.बाबूपट्टीगांवकेलोगोंकामाननाहैकिबच्चनपरिवारअपनावादाज़रूरनिभाएगा.जयाबच्चनने2006मेंहरिवंशरायबच्चनकेनामपरगांवमेंजिसलाइब्रेरीकीशुरुआतकीथी,आजवहपूरीतरहबदहालहै.वहांएकभीकिताबनहींबचीहै.उम्मीदहैकिबच्चनपरिवारकेआनेपरइसकेदिनभीबदलसकतेहैं.

पीलीभीत:वरुणगांधीकेवायरलऑडियोपरमचाबवाल,पार्टीविधायकनेसांसदकोजमकरसुनाईखरीखोटी

Previous post पेयजल किल्लत से जूझ रहे चन्नी
Next post मतदान में महिलाओं की शत-प्रतिश