राजकीय स्कूलों का हाल, बिन गुरु ज्ञानी हो रहे नौनिहाल

बलरामपुर:भलेहीसरकारकमजोरवर्गकेबच्चोंकोराजकीयस्कूलोंमेंसस्तीवसुलभशिक्षादिलानेकादावाकररहीहो,लेकिनजिलेमेंगुरुजनोंकीकमीसेशिक्षाव्यवस्थाबेपटरीहै।आलमयहहैकिविषयअध्यापकोंकीतैनातीनहोनेसेयूपीबोर्डपरीक्षार्थियोंकाभविष्यअंधकारमयहै।

सभीचारराजकीयइंटरकालेजव18मेंसे16राजकीयहाईस्कूलबिनाप्रधानाचार्यकेसंचालितहैं।जिलेभरमें207शिक्षकोंकेसापेक्षमहज91कीतैनातीहै।ऐसेमेंहाईस्कूलवइंटरमीडिएटकेपरीक्षार्थियोंकोमुट्ठीभरशिक्षकोंकेसहारेहीहिदी,अंग्रेजी,गणित,भौतिक,रसायनवजीवविज्ञानकीपढ़ाईकादावाकियाजारहाहै।

शिक्षकोंके116पदरिक्त:

-जिलेके18राजकीयहाईस्कूलोंमेंशिक्षकोंके126पदसृजितहैं।इसकेसापेक्ष68पदरिक्तहैं।58शिक्षकछात्रोंकोहाईस्कूलकेसभीविषयोंकीतालीमदेरहेहैं।ऐसेमेंयहांकेबोर्डपरीक्षार्थियोंकीशिक्षारामभरोसेहै।इसीतरहचारराजकीयइंटरकालेजोंमेंसहायकअध्यापकवप्रवक्ताके81स्वीकृतपदोंकेसापेक्ष48पदहैं।33शिक्षकोंकेसहारेइंटरकेहिदी,अंग्रेजी,गणित,भौतिक,रसायनवजीवविज्ञानकीपढ़ाईकादावाकियाजारहाहै।

20विद्यालयमुखियाविहीन:

-जिलेमेंचारराजकीयइंटरकालेजहैं।इनमेंराजकीयइंकादाराचौरी,गैंसड़ी,इटईरामपुरवराजकीयबालिकाइंकाउतरौलाशामिलहैं।इनमेंसेकिसीभीविद्यालयमेंप्रधानाध्यापककीतैनातीनहींहै।इससेइनकासंचालनकार्यवाहकप्रधानाचार्यकेभरोसेकियाजारहाहै।इसीतरह18मेंसे16राजकीयहाईस्कूलभीमुखियाविहीनहैं।बेहतरतालीमदेनेकाप्रयास:

-जिलाविद्यालयनिरीक्षकगोविदरामकाकहनाहैकिशिक्षकोंवकर्मियोंकीकमीकेबारेमेंशासनकोसमय-समयपरअवगतकरायाजाताहै।बच्चोंकोउपलब्धशिक्षकोंकेसहारेबेहतरतालीमदेनेकाप्रयासकियाजारहाहै।

Previous post 34.27 मीटर तक पहुंची गंगा
Next post कौशल विकास से जुड़कर बनें आत्मन