राजस्थान: सरिस्का टाइगर रिजर्व फॉरेस्ट के बीच पहाड़ पर बसे इस गांव के लोगों को भी लगा वैक्सीन, 1000 फीट का पहाड़ चढ़कर पहुंची मेडिकल टीम

कोरोनाकासंक्रमणआजहरजगहफैलरहाहै.फिरचाहेजमीनीइलाकेंहोयापहाड़ी.कहीभीरहनेवालेव्यक्तिसुरक्षितनहींहै.इसीबातकोदेखतेहुएस्वास्थ्यविभागकीटीमनेटाइगररिजर्वफॉरेस्टसरिस्काकेकोरएरियामेंसबसेऊंचीपहाड़ीपरबसेक्रास्कागांवमेंबुधवारकोवैक्सीनेशनकिया.इसगांवतकपहुंचनेकेलिएवैक्सीनेशनटीमके4सदस्यऔरमाधोगढ़ग्रामपंचायतसरपंचपेमारामनेजंगलमेंकरीब1000फीटसेअधिकऊंचाईकापहाड़पैदलहीचढ़ा.

जैसीहीवैक्सीनेशनकीटीमगांवक्रास्कापहुंचीतोपहलेग्रामीणोंनेवैक्सीनलगवानेसेमनाकरदिया,लेकिनसरपंचकोदेखनेकेबादवैक्सीनलगवानेकोतैयारहोगए.

‘सरपंचखुदआएहैंतोहमजरूरवैक्सीनलगवाएंगे’

वैक्सीनेशनकीटीमकोदेखकरगांववालेअसहजमहसूसकरनेलगगएथे,लेकिनजबउन्होंनेदेखाकिसरपंचपेमारामखुदइतनीदूरपहाड़चढ़करआएहैं.तोवोवैक्सीनकरानेकेलिएमानगए.गांववालोंनेकहाकिहमभीइसमहामारीकोमातदेनेकेलिएवैक्सीनलगवाएंगे.हालांकि,इसगांवमेंअभीतककोरोनाकाएकभीकेससामनेनहींआयाहै.यहीकारणहैकिगांववालोंकोलगताहैकिउन्हेंकोरोनानहींहोगा.इसलिएयहांअबतककिसीनेभीवैक्सीनभीनहींलगवाईथी.

जंगलकेबीचोंबीचपहाड़परबसाहैगांवक्रास्क

गांवक्रास्कग्रामपंचायतमाधोगढ़सेकरीब20किलोमीटरदूरहै.सबसेबड़ीबातयहांमेडिकलकीकोईसुविधानहींहै.अगरकोईबीमारहोताहैतोउसेपहाड़औरजंगलोंसेनीचेआनापड़ताहै.इसगांवकेलोगोंकेपासआजीविकाकाएकहीसाधनहैपशुपालन.गांवकेसभीपशुजंगलमेंहीचरतेहैं.पशुओंकेदूधसेहीगांववालोंकीआजीविकाचलतीहै.इसगांवमेंकरीब100से150लोगरहतेहैं.यहां60लोगोंकोवैक्सीनलगाईगईहै.

वन्यजीवोंकोहैगांववालोंसेसंक्रमणकाखतरा

गांवमेंअभीतकभीकोरोनाकाकोईकेससामनेनहींआयाहै,चूंकियहगांवटाइगररिजर्वकेअंदरहैऔरइसगांवकेआसपासटाइगरऔरअन्यजीवोंकामूवमेंटरहताहै.ऐसेमेंवन्यजीवोंकोगांवकेलोगोंसेसंक्रमितहोनेकाडरहै.इसलिएभीग्रामीणोंकेलिएवैक्सीनेशनजरूरीथा.

येभीपढ़ें-Rajasthan:शकनेकरदिया15सालकेरिश्तेकोतबाह,पतिनेकुल्हाड़ीसेगलाकाटकेकरदीपत्नीकीहत्या

येभीपढ़ें-Rajsthan:नागौरमेंनाबालिगकेसाथदुष्कर्मकीकोशिश,अनपढ़पिताशिकायतनहींदेपायातोपुलिसने7घंटेतकदर्जनहींकीFIR

Previous post एम्बुलेंस व ऑटो की टक्कर में ए
Next post आवागमन की समस्या से जूझ रहे पं