राफेल को लाने में गुरुग्राम का लाडला भी शामिल

जागरणसंवाददाता,गुरुग्राम:युद्धकविमानराफेलकोलानेमेंगुरुग्रामकाएकलाडलाभीशामिलहै।पायलटरोहितकटारियागांवबसईकेरहनेवालेहैं।इससेनकेवलगांवबसईबल्किपूरेगुरुग्राममेंउत्साहकामाहौलहै।सभीअपनेलाडलेकेऊपरगर्वमहसूसकररहेहैं।गांवनिवासी85वर्षीयनारायणसिंहकेबड़ेभाईकेपांचपुत्रोंमेंसबसेबड़ेरोहितकटारियाकेपिताकर्नल(रिटा.)सतबीरसिंहहैं।वेपरिवारसहितसेक्टर-56केजलवायुविहारमेंरहतेहैं।वहसमय-समयपरगांवआतेरहतेहैं।रोहितभीछुट्टीसेआनेपरदादासहितपरिवारकेअन्यसदस्योंसेमिलनेपहुंचतेहैं।

परिवारकेलोगोंकोजबसेजानकारीमिलीहैकिउनकालाडलाउनचुनिदापायलटोंमेंशामिलहैजोफ्रांससेयुद्धकविमानराफेललेकरआरहेहैं,तबसेसभीकीखुशीकाठिकानानहींहै।दादानारायणसिंहकहतेहैंकिपोतेनेपरिवार,समाजवदेशकानामरोशनकरदिया।उसकेऊपरबहुतगर्वहै।गांवनिवासीओमदत्तकटारियाकहतेहैंकिपूरागांवगौरवान्वितहै।उसनेगांवकानामपूरीदुनियामेंरोशनकरदिया।बचपनसेहीवहबहुतहीतेजथा।उसकेभीतरदेशप्रेमकीभावनाकूट-कूटकरभरीहै।उसकीबातोंसेहरकोईप्रेरितहोताथा।आजउसनेवहखुशीदीहैजिसकेबारेमेंकोईसोचभीनहींसकताथा।गांवकेलोगोंनेमिठाइयांबांटकरखुशीकाइजहारकिया।सैनिकस्कूलतिलैयाकेछात्ररहेहैंरोहितकटारिया

रोहितकटारियाझारखंडकेकोडरमाजिलेकेतिलैयासैनिकस्कूलकेछात्ररहेहैं।वैसेजहां-जहांउनकेपिताकीपोस्टिगरहीवहांरहे।इसवजहसेपढ़ाईकेदौरानगांवआनाकमहोगयाथा।वायुसेनामेंजानेकेबादसेफिरगांवआनातेजहोगया।

Previous post रंगोली के जरिये भारत का नक्शा
Next post बिजली गिरने से तीन बच्चों की म