सालदेही गांव की जर्जर सड़क पर पैदल चलना मुश्किल

संवादसहयोगी,नाला(जामताड़ा):राज्यगठनकेबादबीससालबीतनेकोहैफिरभीगांवोंकीसड़कोंकीसूरतनहींसुधरी।गांवकीसड़कोंकोअबतकपक्कीसड़कसेजोड़नेकासपनापूरानहींहुआ।यहहालपांजुनियापंचायतअंतर्गतसालदेहीगांवका।कच्चीसड़ककेकारणसड़ककेविभिन्नजगहोंपरगड्ढेहोगयाहै।उबड़-खाबड़कीस्थितिबनीहुईहै।साइकिल,मोटरसाइकिलतोदूरकीबातपैदलचलनाभीकाफीमुश्किलहोगयाहै।खासकरबरसातकेदिनोंमेंहल्कीबारिशहोनेसेहीसड़ककेगड्ढोंमेंजलजमावहोजाताहै।इससेपूरीसड़कदलदलहोजातीहै।लोगोंकीआवाजाहीकरनेमेंकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़ताहै।गांवमेंकरीबदोसेअधिकघरोंमेंहजारकीआबादीहै।ग्रामीणअबसड़कनिर्माणकार्यकरानेकीमांगकोलेकरगोलबंदहोनेलगेहैं।गांवकेसमीरमुर्मू,अनिलमुर्मू,बिनोदबास्की,हराधनहांसदा,दिलीपमुर्मूकाकहनाहैकिसालदेहीगांवसेपांजुनियातथानाला-दुमकामुख्यसड़कतकसड़ककीस्थितिकाफीजर्जरहै।इससेहमसभीग्रामीणोंकोआवाजाहीकरनेमेंकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़ताहै।इससड़कसेसिर्फसालदेहीगांवकेलोगहीनहींबल्किक्षेत्रविभिन्नगांवोंकीभीयहजीवनरेखाहै।इससड़कसेमुख्यालयतथादूरदराजकेइलाकोंतकलोगआते-जातेहैं।इससड़कसेखड़ीयाम,वामनडीहा,राख,लखिडिहआदिदर्जनोंगांवोंकेलोगोंकाआना-जानाहोताहै।लोगोंनेदोकिमीजर्जरसड़ककीमरम्मतकीमांगकी।बीरुमुर्मू,बोदिलालमुर्मू,परिमलमुर्मूआदिकाकहनाहैकिसड़ककानिर्माणनहींकराएजानेपरआंदोलनकरनेकेलिएवेबाध्यहोगे।कहाकिराज्यगठनकेबादउम्मीदजगीथीकिगांवोंमेंसुविधामिलेगीपरबीससालमेंएकदुरुस्तसड़कग्रामीणोंकोनहींमिलपाई।

Previous post नशे पर अंकुश लगाने की मांग को
Next post ट्रक की चपेट में आने से युवक क