शहर में बाइक लेकर आओ तो जरा ध्यान से, पलक झपकते ही हो जाती हैंचोरी

-औसतनहरसप्ताहएकबाइकहोरहीहैंचोरीजागरणसंवाददाता,बहादुरगढ़:

दिल्लीसेसटाबहादुरगढ़शहरअबदुपहियावाहनचोरोंकेलिएसाफ्टटारगेटबनरहाहै।मतलबयहकियहांसेबाइकचोरीकीवारदातोंकोअंजामदेनाचोरोंकेलिएआसानबनरहाहै।तभीतोपलकझपकतेहीकहांसेऔरकबबाइकचोरीहोजाए,कुछपतानहीं।औसतनहरसप्ताहएकबाइकचोरीहोरहीहै।कुछेकमामलोंकोछोड़बाकीसभीअनसुलझेपड़ेहैं।अबमंगलवारकोहीदिनमेंदिल्लीसेआएएकयुवककीअस्पतालकेसामनेसेकुछहीदेरमेंबाइकचोरीहोगई।टीकरीकलांगांवकासंजयअपनेपिताकीबाइकलेकरजीवनज्योतिअस्पतालमेंअपनेभाईकेपासआयाथा।दिनमेंदोबजेबाइकखड़ीकी।मगरवापसजानेकेलिएनिकलातोबाइकनहींथी।ऐसासिर्फसंजयकेसाथहीनहींबल्किबहुतसेलोगोंकेसाथहोचुकाहै।60फीसदसेज्यादामामलोंमेंतोरिपोर्टभीदेरीसेदर्जहोपातीहै।

लॉकडाउनमेंभीहुईथीबाइकचोरी

दुपहियावाहनचोरोंकेहौसलेकितनेबुलंदहैंइसकाअंदाजाइसीबातसेलगायाजासकताहैकिलॉकडाउनमेंभीतीनबाइकचोरीहुईथी।इनमेंसेएकमार्चकेअंतिमसप्ताहमेंऔरदोबाइकअप्रैलकेपहलेसप्ताहमेंचोरीहुई।उससमयतोसबकुछबंदथा।जबसेलॉकडाउनहटाहैऔरअनलॉकचालूहुआ,तबसेतोवारदातबढ़तीजारहीहैं।अस्पताल,कार्यालय,घरकेबाहरखड़ीबाइकचोरीहोरहीहैं।पिछलेसप्ताहहीब्रह्मशक्तिअस्पतालकेबाहरसेएकसाथदोबाइकचोरीहुई।इससेपहलेविभिन्नइलाकोंमेंघरकेबाहरखड़ीकईबाइकचोरीहोचुकीहैं।दिल्लीसेएकफैक्टरीमेंमशीनठीककरनेआएमैकेनिककीबाइककोभीचोरकुछदेरकेअंदरहीउड़ालेगएथे।चोरीकीवारदातोंकायहसिलसिलासालदरसालचलरहाहै।वर्जन..

मंगलवारकोहुईवारदातमेंचोरोंकापतालगानेकाप्रयासकियाजारहाहै।सीसीटीवीफुटेजचेककीजारहीहै।पहलेकीजोघटनाएंअनसुलझीहैं,उनमेंभीछानबीनचलरहीहै।

--सुनीलकुमार,एसएचओ,शहरथानाबहादुरगढ़

Previous post अलीगढ़ में युवक की हत्या कर शव
Next post मुजफ्फरनगर में महिला के साथ सा