सोलर फेंसिंग के साथ ही रोशन हुए नंधौर सेंचुरी के इको सेंसेटिव जोन में दो गांव

जागरणसंवाददाता,हल्द्वानी:नंधौरसेंचुरीकेइकोसेंसेटिवजोनकेदायरेमेंदोगांवपड़तेहैं।पहलाबकरीयालऔरदूसराकठौल।घनेजंगलमेंहोनेकेकारणयहांअक्सरवन्यजीवोंकाखतरारहताथा।ऐसेमेंसेंचुरीनिदेशककुंदनकुमारसिंहनेगांवकोचारोंतरफसेसोलरफेंसिंगसेघिरवादिया।वहीं,नेपालबार्डरपरशारदाटापूपर15परिवारकईसालोंसेरहतेहैं।आजतकयहांलाइटनहींपहुंची।फारेस्टनेयहांभीसोलरलाइटोंकीव्यवस्थाकीहै।बार्डरक्षेत्रकेयहलोगपौधरोपणसेलेकरसुरक्षामेंअहमभूमिकानिभातेहैं।इसकेअलावाकईफारेस्टचौकियोंकाजीर्णोद्वारभीकियागया।

नंधौरसेंचुरीकाजंगलनैनीताल,ऊधमसिंहनगरवचंपावतजिलेतकफैलाहुआहै।इकोसेंसेटिवजोनकेदायरेमेंसिर्फबकरीयालवकठौलगांवपड़तेहैं।घनेजंगलमेंहोनेकेकारणनिदेशककुंदनकुमारसिंहनेदिसंबरमेंसोलरफेसिंगकाकामशुरूकरवायाथा।जोअबपूराहोगया।इसकेअलावाभारत-नेपालबार्डरपरथपलियालखेड़ानामकाछोटासागांवहै।यहगांवएकतरहसेशारदाटापूपरस्थितहै।लोगोंकीजरूरतकोदेखतेहुएगांवमेंसोलरलाइटेंलगवाईगईहै।

वनकर्मियोंकीसुरक्षाकेइंतजाम

डीएफओकुंदनकुमारसिंहनेबतायाकिसेनापानीगेस्टहाउसवजंगलकेअंदरमौजूदचौकीमें20सोलरलाइटलगाकरवनकर्मियोंकीदिक्कतकोदूरकियागयाहै।इसकेअलावानंधौरसेछहकिमीदूरआंवलाखेड़ावनपरिसरमेंअक्सरवन्यजीवोंकाआतंकरहताथा।यहांभीसोलरफेंसिंगकरवाईगईहै।

Previous post दहेज के लिए महिला की हत्या, स्
Next post चाकू मार दो को किया जख्मी