तीन करोड़ की समझौता राशि पर 502 मामलों का निष्पादन

मधुबनी।लोकअदालतलोगोंकोआसानएवंत्वरितन्यायदिलानेकेलिएजानाजाताहै।इसअदालतमेंआएमामलोंकानिष्पादनदोनोंपक्षकारोंकेबीचसमझौताकेआधारपरकियाजाताहै।उक्तबातेंराष्ट्रीयलोकअदालतकीअध्यक्षताकरतेहुएएडीजेसहअनुमंडलविधिकसेवासमितिकेअध्यक्षअविनाशकुमार-प्रथमनेकही।इसलोकअदालतमेंतीनकरोड़तीनलाख90हजार957रुपयेकीसमझौताराशिपर502मामलोंकानिष्पादनकियागया।इसलोकअदालतमेंझंझारपुरएवंफुलपरासअनुमंडलक्षेत्रकेविभिन्नमामलोंकेनिष्पादनकेलिएपांचबेंचबनाएगएथे।जिसमेंएडीजेअविनाशकुमार-प्रथमकेद्वाराप्रथमबेंचकानेतृत्वकियागया।इसबेंचकेअंतर्गतकोर्टकेआपराधिकमामलोंकेसाथहीएसबीआईकेमामलोंकानिपटाराकियागया।दूसरेबेंचकानेतृत्वएडीजेस्पेशलकोर्टओमसागरद्वाराकियागया।इसबेंचमेंईलाहाबाद,सीबीआई,यूबीजीबीबैंककेमामलोंकानिष्पादनकियागया।तीसरेबेंचकानेतृत्वएसीजेएम-प्रथमअजयशंकरप्रसादद्वाराकियागया।इसबेंचमेंआपराधिकएवंबीओआईब्रांचकेमामलोंकानिपटाराकियागया।चौथेबेंचकानेतृत्वएसीजेएम-द्वितीयमनोजकुमारसिक्सकेद्वाराकियागयाकथा।इसबेंचमेंआरसीसी,यूनीयन,यूबीआई,टेलीफोनमामलोंकानिष्पादनकियागया।वहींपांचवेंबेंचकानेतृत्वएसडीजेएमसहअनुमंडलविधिकसेवासमितिकेसचिवसुशांतकुमारद्वाराकियागयाथा।इसबेंचमेंपीएनबी,एलडीबीआदिबैंकोंकेमामलोंकानिष्पादनगया।इसलोकअदालतमेंग्रामीणबैंककेसबसेअधिक240मामलोंकानिष्पादनकियागया।

--------------------------------------------------

Previous post Crime in Rohtak: पार्टी के दौर
Next post चंदौली में देर रात घर से निकले