UP का अनोखा गांव: यहां सिर्फ महिलाएं खेलती हैं होली, पुरुषों को घरों में रहना पड़ता है कैद; 500 साल पुरानी है परंपरा

उत्तरप्रदेश(UttarPradesh)मेंबुंदेलखंड(Bundelkhand)केहमीरपुर(Hamirpur)जिलेकेकुडौरागांवकीमहिलाओंकीअनोखीहोलीसबसेप्रसिद्धहै.जिसमेंपुरुषोंकाप्रवेशपूरीतरहप्रतिबंधितहोताहै.यहांहोलीकेएकदिनबादपुरुषोंकोघरोंमेंरहनापड़ताहै.महिलाएंगांवमेंरंगोंकेसाथठिठोलीकरतीदिखाईदेतीहै.यहपरंपरासैकड़ोंसालपुरानीहै,अगरगांवकाकोईपुरुषधोखेसेभीमहिलाओंकेबीचपहुंचजाताहैतोकईपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ताहै.कभी-कभीपिटाईभीहोजातीहै.

कुंडौरागांवकेबुजुर्गसियादुलारीकिमानेतोगांवमेंमहिलाओंकीहोलीकाइतिहास500सालसेभीपुरानाहै.जबगांवमेंमहिलाओंकीफागनिकलतीहै,तबकोईभीपुरुषउन्हेंदेखनहींसकताहै.पुरुषोंकोयातोघरोंमेंकैदरहनापड़ताहैयाफिरखेतोंकीओरजानेकाफरमानसुनायाजाताहै.अगरकिसीनेदेखनेकीहिम्मतभीकीतोउन्हेंलट्ठलेकरगांवसेहीखदेड़दियाजाताहै.गांवकीकुंतीदेवीनेबतायाकिमहिलाओंकीफागनिकालनेकीकोईफोटोयावीडियोनहींबनासकता.महिलाओंकीहोलीकीफोटोलेनेपरभीप्रतिबंधहै.अगरकोईइसअनूठीपरंपराकाचोरीछिपेफोटोलेतेपकड़ागयातोउसपरतगड़ाजुर्मानालगायाजाताहै.

गांवमेंहोलीकेदिनघूंघटवालीमहिलाएंकरतीहैहुकूमत

गांवनिवासीबुजुर्गहरिश्चंद्रबतातेहैंकिहोलीकेदूसरेदिनपूरेगांवकीमहिलाएंऔरलड़कियांएकजुटहोकरहोलीखेलतीहैं.जिसकीटोलियांपूरेगांवमेंघूमतीहैं.इसदिनपूरेगांवकेपुरुषोंकोघरोंमेंकैदरहनापड़ताहै.गांवकेमुख्यमार्गोंमेंभीमहिलाएंमौजूदरहतीहै,जोकिसीभीपुरुषकेगांवमेंआतेहीउनकोरंगोंसेसराबोरकरतेहुएउनकोपरेशानकरतीहैं.

रामजानकीमंदिरसेहोलीकीफागकाहोताहैशुभारंभ

बुजुर्गदेवरतीकुशवाहाकाकहनाहैकिहोलीपर्वपरफागकाआगाजरामजानकीमंदिरसेहोताहै.फागगानेकेबादरंगऔरगुलालउड़ातेहुएमहिलाएंपूरेगांवमेंघूमतीहैं.बादमेंखेड़ापतिबाबाकेमंदिरमेंफागकासमापनहोताहै.महिलाओंकेइसआयोजनमेंकुंडौरासेजुड़ेदरियापुरग्रामकीमहिलाएंभीशरीकहोतीहैं.

यहभीपढ़ें- UP:जोहारगएविधानसभाउन्हेंMLCचुनावोंकाटिकटनहींदेगीBJP,16मार्चसेपहलेआसकतीहैप्रत्याशियोंकीपहलीलिस्ट

यहभीपढ़ें- MLCElection:सपाछोड़नेवालेनेताओंकोहोसकताहैसियासीफायदा,हमीरपुरमेंरमेशमिश्रापरMLCचुनावमेंBJPलगासकतीहैदांव

Previous post चार महिलाओं की कटी चोटी
Next post पीलीभीत में टला बड़ा हादसा, अन