..यहां आधी आबादी की आवाज को नहीं मिल पा रही 'शक्ति'

सुलतानपुर:महिलासंबंधीशिकायतोंकीसुनवाईकेलिएथानोंमेंहेल्पडेस्कस्थापितकियागयाहै।इसव्यवस्थाकाउचितलाभकुछजगहोंपरनहींमिलपारहाहै।इसकारणसरकारकीमंशाफलीभूतहोतीनजरनहींआरही।आधीआबादीकीआवाजकोभीताकतनहींमिलपारही।दैनिकजागरणकीटीमनेशनिवारकोहेल्पडेस्ककीहकीकतपरखी।पेशहैरिपोर्ट..समय-सुबहसाढ़ेनौबजे

स्थान-थानाबंधुआकला

कानूनव्यवस्थाकोचुस्त-दुरुस्तरखनेकेलिएएकसालपूर्वचौकीकोथानाबनादिया।मुख्यगेटकेठीकसामनेमुख्यआरक्षीकेबगलहीमहिलाहेल्पडेस्कबनायागयाहै।जागरणटीमपहुंचीतोडेस्कपरकोईभीमहिलापुलिसकर्मीमौजूदनहींथी।बगलमेंहीदीवानअजीतकुमारपांडेयलोगोंकीसमस्याओंकोसुनकरनिस्तारणकररहेथे।

समय-सुबह11:30बजे

स्थान-कोतवालीनगर

थानासमाधानदिवसहोनेकेचलतेपरिसरमेंफरियादियोंकाजमावड़ारहा।हेल्पडेस्कपरमहिलापुलिसकर्मीपूर्वमेंआईशिकायतोंपररिपोर्टलगारहीथी।इसीसमयएकमहिलाशिकायतकेलिएपटलपरपहुंचीतोउसेकुर्सीहीनहींमिली।वापसउसेपुरुषपुलिसकर्मियोंसेहीअपनीबातकहनीपड़ी।पीड़िताकीशिकायतथीकिउसेएकअन्यमहिलाद्वारापरेशानकियाजारहाहै।

स्थान-कोतवालीदेहात

केबिनमेंबनेहेल्पडेस्कपरमहिलापुलिसकर्मीफरियादियोंकाइंतजारकररहीथी।बतायाकिमहिलाओंसेजुड़ेकरीबपांचसेछहमामलेप्रतिदिनदर्जकिएजातेहैं।पूछताछ,काउंसिलिगवशिकायतलिखकरमामलेमेंविधिककार्रवाईकेलिएथानाप्रभारीकोअवगतकरादियाजाताहै।समय-दोपहर01बजे

स्थान-कुड़वारथाना

परिसरमेंहीबाहरबनेहेल्पडेस्कपरमहिलापुलिसकर्मीसुबहकीशिफ्टमेंकर्तव्योंकानिर्वहनकररहीथी।बतायाकिअभीकोईपीड़ितानहींआईहै।हरदिनआतेहैंकरीब150मामले

अपरपुलिसअधीक्षकविपुलकुमारश्रीवास्तवनेबतायाकिसभी17थानोंमेंप्रतिदिनऔसतन150शिकायतेंमहिलाहेल्पडेस्कपरपहुंचतीहैं।करौंदियास्थितमहिलाथानेमेंहीअकेले40से50शिकायतेंआतीहैं।महिलापुलिसकर्मियोंकोकाउंसिलिगकेलिएबेहतरप्रशिक्षणदियागयाहै।लम्भुआमेंबनीमहिलापुलिसचौकीमेंभीपीड़िताओंकोन्यायमिलरहाहै।

Previous post सेनानियों के गांव तक बने सड़क
Next post मेरे पांव में चमचमाते शहर की ब